Top 5 Amazing Benefits of Amla Juice in Hindi (आंवला जूस के फायदे )

0
489
benefits of amla juice

Amla Juice Benefits In Hindi:- आयुर्वेद में कुछ ऐसी चीजें बताई गई हैं जिनके नियमित सेवन से न सिर्फ विभिन्न रोगों से ( Amla Juice Benefits In Hindi ) मुक्ति मिलती है बल्कि इससे त्वचा भी युवा बनी रहती है। इन आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों में से एक है आंवला। विटामिन-सी से भरपूर आंवला, हर मौसम में लाभदायक होता है। |

Amla Juice Benefits In Hindi

यह आंखों, बालों और त्वचा के लिए तो फायदेमंद है ही, साथ ही इसके और भी कई फायदे हैं, जो आपके शरीर को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करते हैं। अक्सर आंवला खासकर आंवला जूस के सेवन को लेकर कई लोग दुविधा में रहते हैं कि इसका सेवन कब करना चाहिए। सुबह खाली पेट आंवला जूस पीना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है|

आयुर्वेद में आंवले को औषधी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है. आंवले को स्वास्थ्य के लिए बहुत ( Amla Juice Benefits In Hindi ) गुणकारी माना जाता है. आंवले को विटामिन सी का सबसे अच्छा सोर्स माना जाता है. इसके अलावा आंवले में विटामिन ए, बी कॉम्‍प्‍लेक्‍स, पोटैशियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, एंटी-ऑक्सीडेंट्स और फाइबर के गुण पाए जाते हैं,|

जो शरीर को कई स्वास्थ्य समस्याओं से बचाने में मदद कर सकते हैं. आंवले में मौजूद पोषक तत्व इम्‍यूनिटी को बढ़ाने का काम करते हैं. आंवले को सिर्फ सेहत ही नहीं बल्कि, त्वचा, आंखों और कई बीमारियों से बचाने में भी मददगार माना जाता है. आंवले के सेवन से खून की कमी को दूर किया जा सकता है.

जिन लोगों को खून की कमी है उन्हें आंवले का सेवन करना चाहिए. माना जाता है कि आंवला पेट में पनप रहे ( Amla Juice Benefits In Hindi ) गंदे बैक्टीरिया और वायरस को खत्म करने में भी मदद कर सकता है. तो चलिए आज हम आपको आंवले के जूस से मिलने वाले लाभों के बारे में बताते हैं. हम अब युगों से आंवला की अच्छाई के बारे में सुनते आ रहे हैं|

यह फल हमारे समग्र कल्याण के लिए लाभकारी माना जाता है. आंवला में औषधीय गुण भी होते हैं जो कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को दूर रखते हैं. आंवाला के अद्भुत स्वास्थ्य लाभों का आनंद लेने के लिए, हमें इसे अपने रोजमर्रा के भोजन में शामिल करना चाहिए.

खासकर महिलाओं को इसे अपनी डेली डाइट में शामिल करना चाहिए क्योंकि इसमें विटामिन सी, आयरन, विटामिन ( Amla Juice Benefits In Hindi ) बी कॉम्प्लेक्स जैसे आवश्यक पोषक तत्व होते हैं. आंवला का रस हम सभी के लिए एक प्राकृतिक औषधि की तरह काम करता है. आंवला जूस पीने के फायदे कई हैं. आंवला का रस विटामिन से भरा होता है और यह इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करता है. यह आपको सर्दी और खांसी से बचाता है. इसमें एंटीऑक्सिडेंट भी होते हैं जो आपको प्रदूषण के नकारात्मक प्रभावों से बचाते हैं. आंवला आपकी त्वचा को चमकदार और मुलायम बनाता है. आंवले का रस पीने से वजन कंट्रोल करने में भी मदद मिलती है.

आंवला क्या है

आंवला को आयुर्वेद में अमृतफल या धात्रीफल कहा गया है। वैदिक काल से ही आंवला का प्रयोग औषधि के रूप में किया जा रहा है। पेड़-पौधे से जो औषधि बनती है उसको काष्ठौषधि कहते हैं और धातु-खनिज से जो औषधि बनती है उनको रसौषधि कहते हैं। इन दोनों तरह की औषधि में आंवला का इस्तेमाल किया जाता है। यहां तक कि आंवला को रसायन द्रव्यों में सबसे ( ) अच्छा माना जाता है यानि कहने का मतलब ये है कि जब बाल बेजान और रूखे-सूखे हो जाते हैं तब आंवला का प्रयोग करने पर बालों में एक नई जान आ जाती है। आंवला का पेस्ट लगाने पर रूखे बाल काले, घने और चमकदार नजर आने लगाते हैं।

चरक संहिता में आयु बढ़ाने, बुखार कम करने, खांसी ठीक करने और कुष्ठ रोग का नाश करने वाली औषधि के लिए अमला का उल्लेख मिलता है। इसी तरह सुश्रुत संहिता में आंवला के औषधीय गुणों के बारे में बताया गया है. इसे अधोभागहर संशमन औषधि बताया गया है, इसका मतलब है कि आंवला वह औषधि है, जो शरीर के दोष को मल ( Amla Juice Benefits In Hindi ) के द्वारा बाहर निकालने में मदद करता है। पाचन संबंधित रोगों और पीलिया के लिए आंवला (Indian gooseberry) का उपयोग किया जाता है। इसे कई जगहों पर अमला नाम से भी जाना जाता है।

benefits of amla juice

कब और कितनी मात्रा में पीना चाहिए आंवला जूस

सुबह खाली पेट आंवला जूस केवल 10 मिलीग्राम ही लें।बढ़ाकर 20 मिलीग्राम कर सकते हैं।इससे ज्यादा आंवला जूस का सेवन सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है।अलग-अलग समय पर इसे दो बार में भी ले सकते हैं।

अन्य भाषाओं में आंवला के नाम ( Name of Amla in Different Languages)

Amla in –

1) Name of Amla in Hindi- आमला, आँवला, आंवरा, आंबला औरा;

2) Name of Amla in Urdu- आँवला (Anwala);

3) Name of Amla in Oriya- औंला (Onola);

4) Name of Amla in Assamese- अमला (Amla), आमलुकी (Amluki);

5) Name of Amla in Kannada- नेल्लि (Nelli), नेल्लिकाय (Nellikai);

6) Name of Amla in Gujarati- आमला (Amla), आमली (Amli);

7) Name of Amla in Tamil- नेल्लिमार (Nellimaram);

8) Name of Amla in Telugu- उसरिकाय (Usirikai);

9) Name of Amla in Bengali- आमला (Amla), आमलकी (Amlaki);

10) Name of Amla in Nepali- अमला (Amla);

11) Name of Amla in Punjabi- आमला (Amla);

12) Name of Amla in Marathi- आँवले (Anwale), आवलकाठी (Aawalkathi);

13) Name of Amla in Malayalam- नेल्लिका (Nellikka), नेल्लिमारम (Nellimaram)।

14) Name of Amla in English- इण्डियन गूजबेरी (Indian gooseberry);

15) Name of Amla in Arabic- आमलज्ज (Amlajj);

16) Name of Amla in Persian- आमलह (Amlah), आम्लाझ (Amlazh) कहते हैं।

आंवला के जूस के फायदे– Amla Juice Benefits In Hindi

1) आंवला से पाएं यंग स्किन ( Amla Juice Benefits In Hindi for Young skin )

benefits of amla juice

आंवला का रस पीने से आपके चेहरे पर एक प्राकृतिक चमक पाने में मदद मिलेगी. इसमें एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो ( Amla Juice Benefits In Hindi ) उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा कर सकते हैं और आपको युवा दिखने में सहायता कर सकते हैं. जूस पीने से उम्र बढ़ने के संकेत जैसे झुर्रियां और फाइन लाइन्स कम हो सकती हैं. आंवला आपके शरीर को भीतर से डिटॉक्स करता है और आपको एक प्राकृतिक चमक को बढ़ावा देता है.

2) पाचन प्रकिया के लिए (Benefits of Amla juice for Digestion process )

बिगड़ी पाचन प्रक्रिया को सुधारने में भी आमला का जूस के फायदे कारगर माने जाते हैं। दरअसल, कैंसर से संबंधित आंवला पर किए गए एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि इसमें स्टमैकिक ( Stomachic – पाचन सुधार और भूख को बढ़ावा देने वाला) गुण पाया जाता है। वहीं, इस शोध में यह भी माना गया कि आंवला पेट के अल्सर और अपच की समस्या में सुधार करने ( Amla Juice Benefits In Hindi ) में भी सहायक है। इसमें पेट में गैस की समस्या से राहत दिलाने की भी क्षमता मौजूद होती है । इन तथ्यों को देखते हुए यह कहना गलत नहीं होगा कि आंवला का उपयोग कर पाचन स्वास्थ्य को मजबूत करने में मदद मिलती है।

3) प्रतिरोधक क्षमता के लिए (Benefits of Amla juice for buffering capacity )

benefits of amla juice

आंवला खाने के फायदे में शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में सुधार भी शामिल है। दरअसल, जर्नल ऑफ फार्माकोग्नॉसी एंड फाइटोकेमिस्ट्री के मुताबिक आंवला में ऊर्जा और प्रतिरोधक क्षमता दोनों को बढ़ाने की क्षमता मौजूद होती है। इसलिए, इसे रोगों से बचाने वाला टॉनिक भी कहा जाता है। वहीं दूसरी ओर, आंवला पर किए गए एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि आंवला ( Amla Juice Benefits In Hindi ) में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण मुक्त कणों के प्रभाव को कम कर प्रतिरोधक क्षमता में सुधार कर सकते हैं ।

इस आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी आंवला सहायक साबित हो सकता है। हालांकि, प्रतिरोधक क्षमता में सुधार के लिए यह किस तरह शरीर पर काम करता है, इस संबंध में अभी और शोध किए जाने की आवश्यकता है।

4) लिवर को रखे स्वस्थ ( Benefits of Amla juice for Healthy Heart )

आंवला के गुण लिवर को स्वस्थ बनाए रखने में भी मददगार साबित हो सकते हैं। देखा जाता है कि अनियमित और गलत खान-पान के कारण लिवर पर विपरीत प्रभाव पड़ता है, जिससे लिवर से संबंधित जोखिम की आशंका बढ़ जाती है। वहीं, शरीर में आयरन की अधिकता के कारण कुछ विषैले पदार्थ भी लिवर ( Amla Juice Benefits In Hindi ) पर बुरा प्रभाव प्रदर्शित कर सकते हैं।

इसके कारण लिवर में सूजन या क्षति की समस्या पैदा हो सकती है। ऐसे में आंवला में मौजूद हेपटोप्रोटेक्टिव (लिवर की रक्षा) करने वाला गुण इस जोखिमों के प्रभाव को कम करने में सहायता कर सकता है । इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि आंवला जूस के फायदे में लिवर को सुरक्षित रखना भी शामिल है।

5) बालों के लिए ( Amla Juice Benefits In Hindi for Hair )

benefits of amla juice

1) सफेद बालों की समस्या से हर उम्र के लोग जूझ रहे हैं। आंवला ( Amla Juice Benefits In Hindi ) के मिश्रण का लेप लगाने से कुछ ही दिनों में बाल काले हो जाते हैं। 30 ग्राम सूखे आंवला, 10 ग्राम बहेड़ा, 50 ग्राम आम की गुठली की गिरी और 10 ग्राम लौह भस्म लें। इन्हें रात भर लोहे की कढ़ाई में भिगोकर रखें। अगर कम उम्र में बाल सफेद हो रहे हैं तो इस लेप को रोज लगाएं। कुछ ही दिनों में बाल काले होने लगते हैं।

2) आंवला, रीठा और शिकाकाई को मिलाकर काढ़ा बना लें। इसे बालों में लगायें। सूखने के बाद पानी से बालों को धो लें। इससे बाल मुलायम, घने और लंबे होते हैं।

3) आंवले का फल, आम की गुठली के मज्जा को एक साथ पीस लें। इसे सिर पर लगाने से बालों की जड़ें मजबूत होती हैं और बाल काले हो जाते हैं।

4) लौह भस्म और आमला चूर्ण को गुड़हल फूल के साथ पीस लें। इसे नहाने से पहले सिर में कुछ देर लगाकर रखें, और फिर पानी से धो लें। इससे बाल सफेद नहीं होते हैं।

6) गले में खराश के लिए ( Benefits of Amla juice for Sore throat )

benefits of amla juice

गले में खराश होने पर आंवले का उपयोग आपको फायदा पंहुचा सकता है।आंवला में लवण रस ( Amla Juice Benefits In Hindi ) को छोड़ कर सभी पांच रस (मधुर-अम्ल -कटु -तिक्त -कषाय) होते है। अतः इसके मधुर और कषाय रस के कारण ये गले की खराश को कम करने में सहायता करता है। अगर गले में खराश सूजन के कारण है तो इसका शीत गुण और मधुर शोथ या सूजन को कम कर गले को आराम देता है।

आंवला का जूस बनाने की विधि

सामग्री

चार आंवले के कटे हुए टुकड़े

एक गिलास पानी

एक चुटकी काला नमक (स्वाद के लिए)

कैसे इस्तेमाल करें

1) पानी और आंवले के टुकड़े को मिक्सर में डालें और अच्छे से इसे पीस लें।

2) अच्छे से पिस जाने के बाद इसे गिलास में छान लें।

3) अब तैयार जूस में एक चुटकी काला नमक मिलाएं और पी लें।

आंवले की खुराक

आमतौर पर आप आंवले का सेवन कई तरह से कर सकते हैं। आंवले का कच्चा फल, आमला जूस, आमला ( Amla Juice Benefits In Hindi ) चूर्ण, आमला कैंडी या आंवले का मुरब्बा बनाकर इसका सेवन किया जा सकता है। इस लेख में ऊपर यह बताया गया है कि कौन सी बीमारी में कितनी मात्रा में आंवले का सेवन करना चाहिए। यहां यह बात ध्यान रखिये कि बहुत अधिक मात्रा में आंवले का सेवन करने से आंवला के नुकसान हो सकते हैं। इसलिए अगर आप किसी बीमारी के घरेलू उपाय के लिए आंवले का सेवन करना चाहते हैं तो बेहतर होगा कि किसी आयुर्वेदिक विशेषज्ञ से सलाह लेकर सेवन करें।

सर्दियों में आंवले का सेवन कैसे करें

सर्दियों के दिनों में आप आंवले का सेवन कई तरीकों से कर सकते हैं। आप चाहें ( Amla Juice Benefits In Hindi )तो सीधे फल खा सकते हैं या फिर इसका जूस पी सकते हैं। सर्दियों में अधिकांश लोग इम्यूनिटी और शरीर की ताकत बढ़ाने के लिए च्यवनप्राश का सेवन करते हैं। च्यवनप्राश का मुख्य घटक भी आंवला ही होता है, इसलिए अगर आपको आंवले के फल या जूस का स्वाद पसंद नहीं है तो च्यवनप्राश के रूप में इसका सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा बाज़ार में मिलने वाले आंवले के चूर्ण, कैंडी , कैप्सूल और मुरब्बे का भी उपयोग किया जा सकता है।

आंवला की हेल्दी रेसिपी

1) आंवले की चटनी

सामग्री

1) 100 ग्राम हरा धनिया

2) दो आंवले

3) दो हरी मिर्च

4) आधा नींबू

5) एक चौथाई चम्मच नमक

कैसे इस्तेमाल करें

1) सबसे पहले हरा धनिया, आंवला, हरी मिर्च और नमक को एक साथ मिक्सी में डालकर अच्छे से पीस लें।

2) अब तैयार पेस्ट को किसी बर्तन में निकालें और उसमें नींबू का रस डालें और खाने के लिए परोस लें।

2) आंवले का मुरब्बा

सामग्री

1) एक किलो कटे हुए आंवले

2) डेढ़ किलो पिसी हुई चीनी

3) एक चम्मच पिसी हुई इलायची

4) एक चम्मच पिसी हुई काली मिर्च

5) एक चम्मच काला नमक

6) आधा चम्मच फिटकरी पाउडर

कैसे इस्तेमाल करें

1) सबसे पहले आंवलों को धोकर करीब एक दिन पानी में भीगने के लिए छोड़ दें। याद रहे इसमें आधा चम्मच फिटकरी पाउडर भी मिलाना है

2) अगले दिन आंवलों को पानी से निकालकर धो लें और उनमें सुई से बारीक छेद कर लें।

3) अब एक बड़े बर्तन में पानी भरकर उसे गैस पर गरम होने के लिए चढ़ा दें।

4) जब पानी खौलने लगे तब आंवले गरम पानी वाले बर्तन में डाल दें।

5) पानी में दोबारा उबाल आने पर गैस बंद कर ( Amla Juice Benefits In Hindi )दें और बर्तन को किसी चीज से ढक कर 15 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।

6) अब इस बर्तन को उतार लें और एक दूसरा बर्तन लें और उसमें दो गिलास पानी डालकर गैस पर चढ़ा दें।

7) अब इस बर्तन में चीनी डाल दें और उसे पानी में अच्छे से मिक्स करें।

8) चीनी अच्छी तरह पानी में मिल जाने के बाद उसमें उबले हुए आंवले डाल दें और मध्यम आंच पर अच्छे से पकाएं।

9) जब आंवला गर्म होकर अच्छी तरह पाक जाए और चीनी गाढ़ी होने ( Amla Juice Benefits In Hindi ) लगे तो इसमें काली मिर्च, काला नमक और इलायची डालकर अच्छे से मिलाएं।

10) अब इसे दो मिनट तक पकाएं और फिर गैस बंद कर दें।

11) अब आंवले का मुरब्बा बनकर तैयार है। इसे ठंडा होने के लिए रख दें और फिर किसी एयर टाइट डिब्बे में बंद करके रख दें।

आंवला को लम्बे समय तक सुरक्षित कैसे रखें

वैसे तो आंवला सर्दी के मौसम में मिलता है और इसके सीजन के दौरान इसे फ्रिज में अन्य सब्जियों की तरह ही करीब पांच से छह दिन तक स्टोर कर सकते हैं। वहीं, अगर इसे लंबे समय के लिए सुरक्षित करना चाहते हैं तो आंवला का मुरब्बा, आंवला कैंडी, आंवला का रस, आंवला का लड्डू, आंवला का चूर्ण, आंवला का अचार और आंवले की चटनी बनाकर स्टोर कर सकते हैं।

Side Effect of Amla juice in Hindi

  • यह ब्लड प्रेशर को कम करने में सहायक है, इसलिए लो ब्लड प्रेशर से ग्रस्त रोगियों को इसके सेवन से बचना चाहिए ।
  • डायबिटीज की दवा लेने वाले लोग इसके सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें। कारण यह है कि इसमें एंटीडायबिटिक (ब्लड शुगर को कम करने वाला) गुण पाया जाता है ।
  • अगर किसी खाद्य सामग्री से एलर्जी की शिकायत है तो इसके सेवन से पहले एक बार डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लें।
  • गर्भावस्था के दौरान आंवला का सेवन करने से पूर्व डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

For more details regarding the Amla juice in Hindi: click here