Angur Khane Ke Fayde- Top 16 Real Amazing Benefits of Grapes in Hindi ( अंगूर के फायदे )

0
435
Benefits of Grapes

Angur Khane Ke Fayde:- आप सभी ने तरह-तरह के फलों का सेवन किया होगा, उन्हीं फलों में से एक अंगूर का फल होता है। यह पोषक तत्व का खजाना होता है। इसमें कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। अंगूर को बलवर्धक और सौंदर्य वर्धक फल माना जाता है। अंगूर का सेवन कई प्रकार से किया जाता है जैसे इन्हें सुखाकर किशमिश के रूप में भी खाया जाता है। और फल के रूप में भी खाया जाता है। आज हम आपके साथ हमारे इस लेख के माध्यम से अंगूर से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी जैसे अंगूर के फायदे, अंगूर के नुकसान, अंगूर के पोषक तत्व, अंगूर क्या होता है? आदि पर चर्चा परिचर्चा करेंगे।

Angur Khane Ke Fayde

Table of Contents

अंगूर का वैज्ञानिक नाम Vitis Vinifera Linnl (वाइटिस विनिफेरा) होता है। अंगूर Vitaceae कुल का पौधा होता है। अंगूर को अंग्रेजी में ग्रेप्स और कॉमन ग्रेप वाइन कहा जाता है। इसके अलावा अंगूर को कई अन्य नामों से पुकारा जाता है। अंगूर कई प्रकार के होते हैं, जैसे काले अंगूर, बैंगनी अंगूर, लंबे अंगूर, हरे अंगूर आदि। बिना बीज वाले छोटे अंगूर को सुखाकर किशमिश बनाए जाते हैं। अंगूर का पौधा बेलनुमा होता है। यह बिलों पर बड़े-बड़े गुच्छों के रूप में होते हैं।

Angur Khane Ke Fayde

Types of Grapes in Hindi

अंगूर के कई प्रकार होते हैं उनमें से कुछ मुख्य है

  •  सुल्ताना: यह सबसे मुख्य प्रमुख प्रकार होता है ।थॉम्पसन, जिसे सुल्ताना कहते हैं ।यह हरे और अंडे अंडाकार व मध्यम आकार के होते हैं ।इनमें बीज नहीं होता है। यह मीठे और रसीले होते हैं। 
  •  मेनिंडी अंगूर: इन अंगूरों में बीज नहीं पाया जाता है। यह स्वाद कि मैं थोड़े तीव्र होते हैं। यह अंगूर सिर्फ अंगूर के मौसम में ही पाए जाते हैं।
  • वाल्थम: इन अंगूरों में बीज पाया जाता है। और यह सुनहरे हरे रंग के होते हैं और आकार में बड़े होते हैं।
  • फ्लेम सीडलैस: यह लाल रंग के होते हैं और गोल होते हैं, और हल्के खट्टे होते हैं स्वाद में।
  • रूबी सीडलैस: यह हाल केयर लाल रंग तथा मध्यम आकार के होते हैं ।यह बिना बीज के होते हैं। और इनकी त्वचा बहुत कोमल होती है।
  • कार्डिनल: यह चेरी लाल और लाल बैंगनी रंग के होते हैं। इनका आकार अंडाकार होता है। और इनमें बीज भी पाए जाते हैं।
  • रेड ग्लॉब: यह लाल रंग के होते हैं। और आकार में बड़े होते हैं तथा इनमें बीज भी पाए जाते हैं।

Nutrients of Grapes in Hindi

अंगूर में जल, शर्करा, सोडियम, पोटैशियम, साइट्रिक एसिड, क्लोराइड, पोटेशियम सल्फेट, मैग्नीशियम, लोहा, विटामिन, प्रोटीन, वसा, फाइबर, थियामिन, राइबोफ्लेविन, नाइसिन, पैंटोथैनिक अम्ल, विटामिन बी 6, फोलेट, विटामिन b12, विटामिन सी, विटामिन के, कैल्शियम, मैंगनीज, फास्फोरस, जस्ता आदि प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। अंगूर में कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं जैसे कि एंटीऑक्सीडेंट्स पॉलिफिनॉल्स ।

Benefits of Grapes in Hindi

Benefits of Grapes

कैंसर के लिए (Grapes in Hindi for cancer)

अंगूर में एंटी ऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो anti-cancer औषधीय गुण प्रदर्शित करते हैं। यह स्तन कैंसर के खतरे को कम करने में सहायक होता है। अंगूर का सेवन करने से कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोका जाता है। अंगूर का सेवन करने से कैंसर को काफी हद तक कम किया जा सकता है, लेकिन पूरी तरह से खत्म नहीं किया जा सकता है। इसीलिए आप डॉक्टर से इलाज जरूर करवाएं। अंगूर में पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो हमारे स्वस्थ जीवन शैली के लिए आवश्यक होते हैं।

आंखों के लिए ( Grapes in Hindi for eyes)

अंगूर में पॉलिफिनॉल्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस के कारण होने वाले रेटिनल degeneration यानी अंधेपन की समस्या को रोकने में सहायक होता है । यह हमारी आंखों के स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। तथा इसमें मौजूद औषधीय गुण दृष्टि स्वास्थ्य को बढ़ावा देने का कार्य करते हैं। यह पॉलिफिनॉल्स फाइटर रिसेप्टर्स इन आंखों की खास कोशिकाओं की सुरक्षा के लिए काफी आवश्यक होते हैं। अंगूर का सेवन करने से आप आंखों से जुड़ी सभी समस्याओं से निजात पा सकते हैं। इसमें विटामिन सी भी पाया जाता है, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होते हैं।

इसके अतिरिक्त अंगूर में रेस्वेराट्रॉल भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो उम्र के कारण होने वाले आंखों की समस्याएं kkके लिए काफी फायदेमंद होता है। यह मोतियाबिंद की समस्या से निजात दिलवाने में भी सहायक होता है।

Angur Khane Ke Fayde

हड्डियों के लिए (Grapes in Hindi for bones)

अंगूर के बीजों में proanthocynidins नामक पॉलीफेनॉल पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूती देने में सहायक होता है। इसके अतिरिक्त अंगूर में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो हड्डियों के विकास के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है।हड्डियों से जुड़ी समस्याओं के लिए आप अंगूर के साथ अंगूर के बीजों का सेवन भी कर सकते हैं।

मधुमेह के लिए ( grapes in Hindi for diabetes)

अंगूर में ग्लाइसेमिक लोड और प्राथमिक इंडेक्स कम मात्रा में पाया जाता है जो anti-diabetic औषधीय गुण प्रदर्शित करता है इसके अतिरिक्त अंगूर में रेस्वेराट्रॉल, क्व्रेस्टिन, कैटेचीन नामक पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो रक्त में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित करने के सहायक होते हैं। इसके अतिरिक्त अंगूर का सेवन करने से ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस और मधुमेह से निजात दिलाने में सहायक होते हैं।

इसके अतिरिक्त अंगूर में पॉलिफिनॉल्स भी पाए जाते हैं, जो anti-diabetic औषधीय गुण प्रदर्शित करते हैं। अंगूर के बीजों में प्रोएंथोसाइनिडीन पेरीफेरल न्यूरोपैथी यानी नसों की समस्याओं को रोकने में भी सहायक होते हैं। डायबिटीज जैसी गंभीर समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप अंगूर अंगूर के बीजों का सेवन कर सकते हैं। यह एक गंभीर समस्या होती है, इसीलिए आप डॉक्टर से अपना इलाज जरूर करवाएं।

कोलेस्ट्रॉल के लिए (Grapes in Hindi for cholesterol)

अंगूर में पॉलिफिनॉल्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो हाइपोलिपिडेमिक औषधीय गुण प्रदर्शित करते हैं। जिससे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित किया जा सकता है। अंगूर का सेवन करने से हमारे शरीर में से हानिकारक कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम किया जाता है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल की वृद्धि होती है। लाल अंगूर के जूस का सेवन करने से आप कोलेस्ट्रॉल से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं। अंगूर का सेवन करने से कल के कारण होने वाली कई अन्य समस्याएं जैसे दिल की बीमारी, डायबिटीज तथा अन्य समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है। यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है।

दमा के लिए (Grapes in Hindi for asthma)

अंगूर के बीजों में प्रोएंथोसाइनाइडिंस पॉलीफेनॉल पाया जाता है, जो सूजन को कम करने में सहायक होता है। यह दमा के लक्षणों को कम करने में काफी फायदेमंद साबित हो सकता है । अंगूर का सेवन करने से अस्थमा जैसी गंभीर बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है। हालांकि यह एक गंभीर बीमारी है और जानलेवा भी हो सकती है, इसीलिए आप डॉक्टर से अपना इलाज जरूर करवाएं।

कब्ज के लिए (Grapes in Hindi for constipation)

अंगूर में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो पेट से जुड़ी समस्याओं से निजात दिलवाने में सहायक होता है। अंगूर का सेवन करने से कब्ज गैस की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता हैm अंगूर का सेवन करना आपके पेट के स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है।

अल्जाइमर के लिए (Grapes in Hindi for Alzheimer)

अंगूर में कुछ खास पोषक तत्व पाए जाते हैं जैसे कि रेस्वेराट्रॉल, प्रोएंथोसाइनाइडिंस जो अल्जाइमर जैसी उम्र से संबंधित दिमागी समस्याओं के जोखिम को कम करने में सहायक होते हैं। इसके अतिरिक्त, अंगूर के रस में पॉलिफिनॉलिक योगिक जैसे फ्लेवोनॉयड, रेस्वेराट्रॉल एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो अल्जाइमर की समस्या से निजात दिलवाने में सहायक होते हैं। यह काफी गुणकारी होता है। अंगूर में पाए जाने वाले पोषक तत्व न सिर्फ अल्जाइमर से बचाव करते हैं, बल्कि उसके प्रभाव को कम करने में भी सहायक होते हैं ।अल्जाइमर से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए रेड वाइन और रेड ग्रेप्स का सेवन कर सकते हैं।

रक्तचाप के लिए (Grapes in Hindi for blood pressure)

अंगूर में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो सिस्टोलिथ रक्तचाप को नियंत्रित करने में सहायक होता है। अंगूर का सेवन करने से मोटापे के कारण होने वाले रक्त से संबंधित समस्याओं से भी छुटकारा पाया जा सकता है । रक्त संबंधित समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप अंगूर का सेवन कर सकते हैं । अंगूर में हाइपोटेंसिव औषधीय गुण पाया जाता है। निम्न रक्तचाप वाले लोगों को अंगूर का सेवन निम्न मात्रा में करना चाहिए। अंगूर का सेवन करने से रक्त से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

Angur Khane Ke Fayde

हृदय स्वास्थ्य के लिए (Grapes in Hindi for heart)

अंगूर में फ्लेवोनॉयड, फेनॉलिक एसिड और रेस्वेराट्रॉल प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो हृदय संबंधित समस्याओं से छुटकारा दिलाने में सहायक होते है । इसके अतिरिक्त अंगूर में एंटीऑक्सीडेंट गुण भी पाए जाते हैं, जो खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में सहायक होता है। जिससे हृदय की गति से संबंधित विभिन्न प्रकार के रोगों को रोका जा सकता है ।इसके अतिरिक्त अंगूर में कार्डियो प्रोटेक्टिव औषधीय गुण भी सहायता करता है ।यह गंभीर समस्या बन सकती है। इसीलिए आप डॉक्टर से अपना इलाज जरूर करवाएं।

गठिया के लिए (Grapes in Hindi for arthritis)

अंगूर में एंटी इन्फ्लेमेटरी औषधीय गुण पाया जाता है, जो गाठिया की समस्या के कारण होने वाली सूजन से निजात दिलाने में सहायक होता है। इसके अतिरिक्त, अंगूर के बीजों में पॉलीफेनॉल में एंटी अर्थराइटिस औषधीय गुण पाया जाता है, जो गठिया की समस्या से छुटकारा दिलाने में सहायक होता है।

किडनी के लिए (Grapes in Hindi for kidney)

अंगूर में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो किडनी से जुड़ी समस्याओं से निजात दिलवाने में सहायक होते हैं । इसके अतिरिक्त, यदि आप मोटापे और डायबिटीज की समस्या से ग्रसित है तो प्रतिदिन नियमित रूप से अंगूर पाउडर का सेवन करें ।अंगूर पाउडर का सेवन करने से आपका किडनी की बीमारी से भी बच सकते हैं। यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं।

पेट के लिए (Grapes in Hindi for stomach)

अंगूर में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो पाचन संबंधी समस्याओं से निजात पाने में सहायक होते हैं। इसके अतिरिक्त, अंगूर में पॉलिफिनॉल्स पेट में बैक्टीरिया के कारण होने वाले संक्रमण, ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस और सूजन को कम करने में सहायक होते हैं। अंगूर में मौजूद पॉलिफिनॉल्स एककरमानसिया मुसिनिफिला जैसे बैक्टीरिया के कारण होने वाले आपके नुकसान को कम करने में सहायक होते हैं, तथा उसे जड़ से खत्म करने में सहायक होते हैं।

वजन कम करने के लिए (Grapes in Hindi to reduce weight)

अंगूर में फ्लेवनॉल , फ्लेवन 3 ऑल, एंथोसाइएनिन तथा फ्लेवोनॉयड पॉलीमर प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो वजन को नियंत्रित करने में सहायक होते हैं। अंगूर का सेवन करने से आप काफी हद तक वजन कम कर सकते हैं और मोटापे की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। मोटापे की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अंगूर का सेवन कर सकते हैं। यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है।

त्वचा के लिए (Grapes in Hindi for skin)

अंगूर में एंटी ऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस के कारण होने वाली त्वचा संबंधित समस्याओं को कम करने में सहायक होते हैं। इसके अतिरिक्त अंगूर में पॉलीफेनॉल भी पाए जाते हैं, जो सूर्य की हानिकारक किरणों के प्रभाव से होने वाली त्वचा संबंधी समस्याओं से निजात दिलाने की सहायक होते हैं। यह हमारे चेहरे पर से कील मुहांसों को हटाने के लिए भी काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं। त्वचा संबंधित समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप अंगूर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Angur Khane Ke Fayde

बालों के लिए (Grapes in Hindi for hair)

अंगूर में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। इसके अतिरिक्त अंगूर के बीजों में प्रोएंथोसाइएनिदिन पाया जाता है, जो बालों को के विकास के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके अतिरिक्त यह झड़ते बालों की समस्याओं से भी छुटकारा दिलाने में सहायक होते हैं। इसके अतिरिक्त, अंगूर के छिलकों में पॉलिफिनॉल्स पाए जाते हैं, जो हमारे बालों के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं।

Side effects of Grapes in Hindi 

यह भी देख >>>> जामुन के फायदे

  • अंगूर का अधिक मात्रा में सेवन करने से कई समस्याएं सामने आ सकती है कुछ व्यक्तियों में अंगूर के बीज खाने से अपेंडिसाइटिस( पेट में मौजूद अपेंडिक्स में सूजन )की समस्या सामने आ सकती है।
  •  गर्भावस्था के दौरान किसी भी चीज का सेवन करने से पहले आप डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
  •  छोटे बच्चों को अंगूर का सेवन ना करें क्योंकि उनके गले में छिलका अटक सकता है।
  •  किसी प्रकार की एलर्जी की समस्या होने पर आप अंगूर का सेवन ना करें। यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक साबित हो सकता है।

For more details regarding the Benefits of Grapes in Hindi: click here

कैंसर के लिए कैसे फायदेमंद है अंगूर बताईये?

अंगूर में एंटी ऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो anti-cancer औषधीय गुण प्रदर्शित करते हैं। यह स्तन कैंसर के खतरे को कम करने में सहायक होता है। अंगूर का सेवन करने से कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोका जाता है। अंगूर का सेवन करने से कैंसर को काफी हद तक कम किया जा सकता है, लेकिन पूरी तरह से खत्म नहीं किया जा सकता है। इसीलिए आप डॉक्टर से इलाज जरूर करवाएं। अंगूर में पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो हमारे स्वस्थ जीवन शैली के लिए आवश्यक होते हैं।

रक्तचाप के लिए कैसे उपयोगी है?

अंगूर में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो सिस्टोलिथ रक्तचाप को नियंत्रित करने में सहायक होता है। अंगूर का सेवन करने से मोटापे के कारण होने वाले रक्त से संबंधित समस्याओं से भी छुटकारा पाया जा सकता है । रक्त संबंधित समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप अंगूर का सेवन कर सकते हैं । अंगूर में हाइपोटेंसिव औषधीय गुण पाया जाता है। निम्न रक्तचाप वाले लोगों को अंगूर का सेवन निम्न मात्रा में करना चाहिए। अंगूर का सेवन करने से रक्त से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

अंगूर के Side Effects बताईये?

अंगूर का अधिक मात्रा में सेवन करने से कई समस्याएं सामने आ सकती है कुछ व्यक्तियों में अंगूर के बीज खाने से अपेंडिसाइटिस( पेट में मौजूद अपेंडिक्स में सूजन) की समस्या सामने आ सकती है।
 गर्भावस्था के दौरान किसी भी चीज का सेवन करने से पहले आप डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
 छोटे बच्चों को अंगूर का सेवन ना करें क्योंकि उनके गले में छिलका अटक सकता है।
 किसी प्रकार की एलर्जी की समस्या होने पर आप अंगूर का सेवन ना करें। यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक साबित हो सकता है।

किडनी के लिए कैसे उपयोगी है बताईये?

अंगूर में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो किडनी से जुड़ी समस्याओं से निजात दिलवाने में सहायक होते हैं । इसके अतिरिक्त, यदि आप मोटापे और डायबिटीज की समस्या से ग्रसित है तो प्रतिदिन नियमित रूप से अंगूर पाउडर का सेवन करें ।अंगूर पाउडर का सेवन करने से आपका किडनी की बीमारी से भी बच सकते हैं। यह आपके स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं।

त्वचा के लिए कैसे उपयोगी है?

अंगूर में एंटी ऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस के कारण होने वाली त्वचा संबंधित समस्याओं को कम करने में सहायक होते हैं। इसके अतिरिक्त अंगूर में पॉलीफेनॉल भी पाए जाते हैं, जो सूर्य की हानिकारक किरणों के प्रभाव से होने वाली त्वचा संबंधी समस्याओं से निजात दिलाने की सहायक होते हैं। यह हमारे चेहरे पर से कील मुहांसों को हटाने के लिए भी काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं। त्वचा संबंधित समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप अंगूर का इस्तेमाल कर सकते हैं।