Superb Benefits Of Orange Juice in Hindi ( संतरे का जूस पीने के फायदे )

0
540
benefit of orange juice

Benefit Of Orange Juice:- संतरे को सबसे ज़्यादा इस्तेमाल जूस के तौर पर किया जाता है और लोग हर मौसम में इसका सेवन करते हैं, लेकिन सर्दियों के मौसम में अगर आप इसका सेवन करते हैं तो आपको इसके कई सारे लाभ देखने को मिलेंगे जो आपकी सेहत को हर तरह से फायदा पहुंचाएगा. कहते हैं कि अगर एक ग्लास संतरे का रस यदि नियमित रुप से लिया जाए तो यह हेल्थ के ऑल ( Benefits Of Orange Juice ) राउंड ऑटोमेटिक प्रोटेक्टर की तरह काम करता है. संतरा एक प्रसिद्ध फल है जो की लगभग हर देश में पाया जाता है. संतरे में कई तरह के विटामिन, खनिज पदार्थ पाए जाते हैं, जो कि सेहत के लिए फायदमेंद होते हैं.

Benefit of orange juice

साथ ही अगर इस फल का सेवन नियमित रूप से किया जाए, तो कई बीमारी से शरीर की रक्षा भी की जा सकता है. यह फल आसानी ( Benefits Of Orange Juice ) से उपलब्ध होने वाला है और इस फल को या तो छिलकर खाया जा सकता है या फिर इसका जूस भी बनाकर पीया जा सकता है. इसके अलावा कई लोगों द्वारा संतरे के फल से बनी चाय का भी सेवन किया जाता है|

इस फल को खाने से त्वचा, शरीर और बालों को कई तरह के लाभ भी पहुंचते हैं. खट्टा-मीठा, रसीला और सुंदर चटख रंग वाला संतरा देखकर ही ताजगी आ जाती है। नाश्ते के साथ या स्नैक के रुप में संतरे का काफी उपयोग किया जाता है।

यह एक ऐसा फल है जो दुनियाभर में बहुत ही लोकप्रिय है। यह लोकप्रियता इस सुंदर सिट्रस फ्रूट को ऐसे ही नहीं मिल गई। संतरे की हर चीर कई ( Benefits Of Orange Juice ) पोषक तत्वों और गुणों से भरपूर होती है। – संतरे में विभिन्न पोषक तत्व प्रचूर मात्रा में होते हैं। इसकी बड़ी खूबी यह है कि इसमें कैलोरीज काफी कम होती है। – किसी भी प्रकार का सैच्यूरेटेड फैट या कोलेस्ट्रॉल संतरे में नहीं होता है।

इसके विपरीत इसे खाने से डायटरी फायबर मिलता है जो इन हानिकारक तत्वों को शरीर से बाहर करने में सहायक होता है। संतरे के जूस के सेवन से वजन बढ़ने की समस्या भी हो सकती है. संतरे में मौजूद कार्बोहाइड्रेट हमारे खून में ग्लाइसेमिक इंडेक्स के लोड को बढ़ा देता है.

जो कि आपके वजन को बढ़ाने में मदद करता है. संतरे के हैं ये बड़े नुकसान, ज़्यादा न खाएं संतरा खाने के ढेरों फायदों के बारे में तो आपने सुना होगा, लेकिन क्या आपको संतरे के ज़्यादा इस्तेमाल से होने वाले नुकसान के बारे में पता है. अगर नहीं तो ये ख़बर आपके काम की है|

संतरे में फैट, कोलेस्ट्रॉल और सोडियम की मात्रा न के बराबर होती है. संतरा आपके ( benefits of orange juice ) दिल को स्वस्थ्य रखता है, ये आपकी आंखों को भी सुरक्षित रखता है, लेकिन ज्यादा संतरा खाने से सीने में जलन, वजन बढ़ने, एनर्जी लेवल के अनियंत्रित होने, दस्त जैसी समस्याएं हो सकती हैं |

ज़्यादा संतरे का सेवन आपकी हड्डियों को भी कमजोर कर सकता है. इसके अलावा संतरा ज्यादा खाने से पाचन की समस्या भी हो सकती है. इन समस्याओं की (benefits of orange juice )वजह सिर्फ ज़रूरत से ज़्यादा संतरे का सेवन नहीं है बल्कि उसका असमय सेवन भी है. गर्मी के मौसम में संतरे के जूस का मज़ा ही अलग होता है। गर्मियों में इन्हें खाने से या पीने से आपके अंदर एक अलग ही ताज़गी आती है। आज हम बात करेंगे गर्मियों के मौसम में संतरे को खाने या जूस पीने से आखिर क्या फायदे होते हैं?

नारंगी क्या है

नारंगी का पेड़ हमेशा ही हरा भरा होता है। यह लगभग 3-4 मीटर ऊंचा या मध्‍यम आकार का होता है। इसमें काफी टहनियां ( benefits of orange juice ) होती हैं और वे कंटीली होती हैं। यह झाड़ीनुमा दिखाई पड़ता है। नारंगी का स्‍वाद खट्टा-मीठा, तासीर गर्म और स्‍पर्श चिकना होता है। इस सुगंधित फल का सेवन बल प्रदान करने वाला तथा आमकारक होता है। संतरा के फूल सुगंधित, मनमोहक होते हैं।

ये बुखार मिटाने वाले और बल प्रदान करने में असरदार होते हैं। संतरा के फूल के नियमित सेवन से मूत्र की रुकावट दूर होती है। नारंगी के फल की बात की जाए तो इसका आकार अर्धगोलाकार या गोलाकार होता है तथा मांसल होता है। कच्‍चा फल गहरे-हरे रंग का तथा पकने पर यह लालिमायुक्त-नारंगी अथवा चमकीले नारंगी रंग का हो जाता है। यह वात को दूरने ( benefits of orange juice ) करने वाला होता है। इसका सेवन हृदय के लिए फायदेमंद होता है।

benefit of orange juice

अनेक भाषाओं में नारंगी के नाम ( Orange Called in Different Languages )

Orange in:-

1) Hindi – नारंगी, संतरा

2) English – लूज स्किन्ड ऑरेन्ज (Loose skinned orange), क्लेमेन्टीन (Clementine), स्वाटो (Swato), टैन्जेरीन (Tangerine), किथाले (Kiththale)

3) Sanskrit – नारङ्ग, ऐरावत, नागरङ्ग, त्वक्सुगन्ध, स्वादुनारंग, मुखप्रिय

4) Oriya – कमाला (Kamala)

5) Urdu – गुलेबहार (Gul-e-bahar) Kannada – हेराले (Herale), दोराले (Dorale)

6) Konkani – अनेनेस (Anenes)

7) Gujrati – नारङ्गा (Naranga), नारंगी (Narangi), संतरा (Santara)

8) Tamil – कमाला (Kamala), कुडागु (Kudagu)

9) Telugu – कमलपाण्डु (Kamalpandu), मल्कानारंगी (Mallikanarangi)

10) Bengali – कमलानेंबु (Kamlanembu)

11) Nepali – सुन्तला (Suntala)

12) Punjabi – संतरा (Santra)

13) Malayalam – मधुरनाराना (Madhurnaranna)

14) Marathi – नारंग (Narang), संतरा (Santra)

15) Arabic – नारंज (Naranj)

16) Farasi – किस्मे अज नारंज (Kisme aj naranj), नारंग (Narang)

संतरा के प्रकार

1) गोल संतरा:- यह सबसे आम, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण संतरा माना जाता है।

2) नेवल संतरा:- इसका ऊपरी भाग नाभि की तरह होता है, इसलिए इसे नेवल ऑरेंज के नाम से जाना जाता है। 3) ब्लड संतरा – यहा संतरे का एक खास प्रकार है, जिसका रंग रक्त जैसा लाल होता है।

4) एसिड लैस संतरा:- इस संतरे के प्रकार में एसिड की मात्रा कम पाई जाती है।

संतरे के फायदे– Benefits of Oranges in Hindi

नारंगी सभी को पसंद होती है। यह फल बहुत ही रसदार होती है। नारंगी का रंग ( Benefits Of Orange Juice ) सभी फलों से अलग होता है और इसकी स्वाद भी अन्य फलों से बिल्कुल भिन्न होती है। स्‍वाद में खट्टा-मीठे नारंगी को आप सभी लोग बहुत ही रुचि से खाते होंगे। आमतौर पर लोग केवल यह जानते हैं कि नारंगी का सेवन स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है। बहुत कम लोग जानते होंगे कि नारंगी का इस्तेमाल एक औषधि के रूप में भी किया जाता है।

1) भूख बढ़ाने के लिए ( Benefits Of Oranges For Increase Appetite )

15-20 मिलीग्राम फल के छिलके के काढ़ा बना लें। इसमें नींबू का रस मिलाकर सुबह में खाली पेट सेवन करें। इससे आमदोष का पाचन होकर अपच की समस्या दूर होती है। इस काढ़े का सेवन भूख न लगने, पेट फूलने, उल्टी, दस्‍त तथा कब्‍ज में लाभप्रद है।

नारंगी फल के रस का सेवन करने से पीटे के कीड़े को समाप्‍त करने, अत्यधिक प्यास, दस्‍त, अफारा तथा अपच में लाभ होता है।

सूखे नारंगी के छिलके का चूर्ण बना लें। इसके साथ ही इलायची, जीरा, सोंठ तथा मरिच को बराबर भाग में मिलाकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण (2-4 ग्राम) में सेंधा नमक मिलाकर छाछ या मट्ठा के साथ पिए। इससे भूख बढ़ती है।

2) वजन बढ़ने के लिए (Benefits of Oranges for Weight gain )

ज्यादा संतरे के जूस के सेवन ने वजन बढ़ने की समस्या हो सकती है. संतरे में मौजूद कार्बोहाइड्रेट हमारे खून में ग्लाइसेमिक इंडेक्स के लोड को बढ़ा देता है. जो कि आपके वजन को बढ़ा देता है. इसके ज्यादा मात्रा में सेवन से शरीर में फाइबर, कार्बोहाइड्रेट की मात्रा बढ़ती है और ज्यादा भूख भी लगती है. ऐसे में ज़्यादा भूख का परिणाम आपके बढ़े हुए वजन के रूप में सामने आती है

3) इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत करने के लिए (Benefits of Oranges for strong Immunity system )

आजकल बढ़ती बीमारियों और वायरल के कारण ज्यादातर लोग इसका शिकार हो जाते हैं जिसका मुख्य कारण ये है कि उनका इम्यूनिटी सिस्टम काफी कमजोर होता है। लेकिन अगर आप इन बीमारियों के खतरे से दूर रहना चाहते हैं तो आप इसके लिए संतरे के जूस का सहारा ले सकते हैं। संतरे का जूस विटामिन सी से भरपूर होता है, जो आपकी इम्युनिटी को बूस्ट करने में मदद करता है और आपको कोल्ड, फ्लू और अन्य गंभीर बीमारियों से बचाता है।

4) त्वचा को निखारने के लिए (Benefits of Oranges for Skin whitening )

संतरे का जूस नियमित रूप से पीने से ये आपको फिट तो रखता ही है साथ ही ये आपकी त्वचा के लिए भी बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। नियमित रूप से संतरे का जूस पीने से आपकी त्वचा चमकने लगती है। संतरे का रस एंटीऑक्सिडेंट, सबसे महत्वपूर्ण विटामिन सी से भरपूर होता है, जो डेड स्किन से लड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। डेड स्किन आपकी त्वचा को सुस्त बना सकती है और झुर्रियों और बुढ़ापे को भी बढ़ावा दे सकती है।

संतरे में विटामिन सी की मात्रा अधिक होती है, जो एंटी-एजिंग व यूवी प्रोटेक्शन के साथ-साथ त्वचा को स्वस्थ रखने का काम करता है । इसके लिए आप रोजाना एक संतरा या उसका जूस निकालकर पी सकते हैं। आप चाहें तो संतरे के छिलके को पीसकर चेहरे पर फेस मास्क की तरह यूज कर सकते हैं, लेकिन इसे करने से पहले त्वचा विशेषज्ञ से एक बार सलाह जरूर कर लें।

5) एनीमिया के लिए (Benefits of Oranges for Anemia )

संतरे के अंदर आयरन और विटामिन सी की अच्छी मात्रा होती है। संतरे का सेवन आयरन की कमी से होने वाले एनीमिया काे दूर करने में सहायक होता है। दरअसल, संतरा में आयरन की कम मात्रा होती है लेकिन विटामिन सी भरपूर मात्रा में मौजूद होता है और विटामिन सी शरीर में आयरन के अवशोषण को बढ़ाने में सहायक हो सकता है। ऐसे में इस स्थिति में संतरे के सेवन से एनीमिया की समस्या से बचाव होता है।

संतरे का उपयोग

खट्टी नारंगी का सेवन करने से वह देर से पचती है, वहीं कच्ची नारंगी कफ, पित्त एवं आमवर्द्धक व वात को दूर करने वाली होती है। नारंगी का उपयोग खांसी, जुकाम के रोगियों तथा कफ प्रकृति वालों के लिए बेहद फायेदमंद होता है। आयुर्वेद में इसके बहुत से गुणों पर विस्‍तार से बताया गया है।

आइए जानते हैं कि गेंद की तरह दिखने वाले नारंगी का जूस और सलाद बनाने का तरीका

1) संतरे का जूस

सामग्री :

1) 5 छिले हुए संतरे

2) 1 छन्नी

क्या करें

1) छिले हुए संतरों को जूसर में डाल कर ग्राइंड कर लें।

2) फिर छन्नी से छान कर एक बाॅउल में निकाल लें।

3) स्वाद के लिए आप काला नमक भी मिला सकते हैं।

4) ऑरेन्ज जूस सर्व करने के लिए तैयार है।

2. संतरे का सलाद

सामग्री :

1) 2 चम्मच सूखे संतरे का पाउडर

2) 4 छिलका रहित संतरे

3) 1 केला कटा हुआ

4) 1 कीवी कटा हुई

5) आधा कप कटा हुआ अनानास

6) आधा कप कटा हुआ पपीता

7) 2 चम्मच चीनी

8) चुटकी भर नमक

9) 1 कटा हुआ नींबू

क्या करें

1) संतरे का पाउडर, नमक और चीनी काे एक साथ मिला कर एक मिश्रण बना लें।

2) कांच के किसी बर्तन में सभी कटे हुए फलों को डालें।

3) इसके ऊपर अब मिश्रण और नींबू का रस डालकर अच्छी तरह मिला लें।

4) सलाद तैयार है, आप इसे सर्व कर सकते हैं।

Side Effects of Orange Juice in Hindi

  • संतरा फाइबर से समृद्ध होता है और अधिक मात्रा में फाइबर का सेवन अपच, पेट में ऐंठन और दस्त का कारण बन सकता है ।
  • वहीं, कम मात्रा में आहार के रूप में लिया गया फाइबर गैस या दस्त को कम करने में मदद कर सकता है।
  • इसके अलावा, संतरा एसिडिक प्रकृति का होता है, इसलिए संतरे का अधिक मात्रा में सेवन सीने में जलन पैदा कर सकता है
  • ऐसा इसमें मौजूद एस्कॉर्बिक एसिड और सिट्रिक एसिड के कारण हो सकता है

For more details regarding the Orange juice in Hindi: click here

नारंगी क्या है?

नारंगी का पेड़ हमेशा ही हरा भरा होता है। यह लगभग 3-4 मीटर ऊंचा या मध्‍यम आकार का होता है। इसमें काफी टहनियां (benefits of orange juice) होती हैं और वे कंटीली होती हैं। यह झाड़ीनुमा दिखाई पड़ता है। नारंगी का स्‍वाद खट्टा-मीठा, तासीर गर्म और स्‍पर्श चिकना होता है। इस सुगंधित फल का सेवन बल प्रदान करने वाला तथा आमकारक होता है। संतरा के फूल सुगंधित, मनमोहक होते हैं।

त्वचा को निखारने के लिए संतरे कैसे उपयोगी है बताईये?

संतरे का जूस नियमित रूप से पीने से ये आपको फिट तो रखता ही है साथ ही ये आपकी त्वचा के लिए भी बहुत ही फायदेमंद माना जाता है। नियमित रूप से संतरे का जूस पीने से आपकी त्वचा चमकने लगती है। संतरे का रस एंटीऑक्सिडेंट, सबसे महत्वपूर्ण विटामिन सी से भरपूर होता है, जो डेड स्किन से लड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। डेड स्किन आपकी त्वचा को सुस्त बना सकती है और झुर्रियों और बुढ़ापे को भी बढ़ावा दे सकती है।

भूख बढ़ाने के लिए कैसे उपयोगी है संतरे बताये?

15-20 मिलीग्राम फल के छिलके के काढ़ा बना लें। इसमें नींबू का रस मिलाकर सुबह में खाली पेट सेवन करें। इससे आमदोष का पाचन होकर अपच की समस्या दूर होती है। इस काढ़े का सेवन भूख न लगने, पेट फूलने, उल्टी, दस्‍त तथा कब्‍ज में लाभप्रद है।नारंगी फल के रस का सेवन करने से पीटे के कीड़े को समाप्‍त करने, अत्यधिक प्यास, दस्‍त, अफारा तथा अपच में लाभ होता है।सूखे नारंगी के छिलके का चूर्ण बना लें। इसके साथ ही इलायची, जीरा, सोंठ तथा मरिच को बराबर भाग में मिलाकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण (2-4 ग्राम) में सेंधा नमक मिलाकर छाछ या मट्ठा के साथ पिए। इससे भूख बढ़ती है।

संतरे से होने वाले Side Effects बताईये?

संतरा फाइबर से समृद्ध होता है और अधिक मात्रा में फाइबर का सेवन अपच, पेट में ऐंठन और दस्त का कारण बन सकता है ।
वहीं, कम मात्रा में आहार के रूप में लिया गया फाइबर गैस या दस्त को कम करने में मदद कर सकता है।
इसके अलावा, संतरा एसिडिक प्रकृति का होता है, इसलिए संतरे का अधिक मात्रा में सेवन सीने में जलन पैदा कर सकता है
ऐसा इसमें मौजूद एस्कॉर्बिक एसिड और सिट्रिक एसिड के कारण हो सकता है