10 Benefits Of Ajwain ( Carom Seeds): अजवाइन के लाभ

0
1027
Benefits Of Ajwain

Ajwain:- अजवाइन मसाले का एक हिस्सा होती है।अजवाइन के बीज छोटे अंडाकार आकार के होते हैं।अजवाई जीरा तथा सौंफ के परिवार से संबंध रखता है। अजवाइन का वैज्ञानिक नाम ट्रेकिस्पर्मम अम्मी (Trachyspermum ammi) है।अजवाइन स्वाद में कड़वी तथा तीखी होती है। अजवाइन को विभिन्न राज्यों में विभिन्न नामो से जाना जाता है, जैसे कि तमिल में ओमम, कन्नड़ में ओम कलुगलु, तेलुगु में वामु और मलयालम में अयोधमकम आदि।

Ajwain

हमारी रसोई में मिलने वाले कुछ आम चीजों में से अजवाइन के बीज एक है। हम अजवाइन के बीजों का प्रयोग खाने में तथा कई घरेलू नुस्खों में करते हैं। अजवाइन औषधीय गुणों से भरा होता हैं। अजवाइन विटामिन एंटीऑक्सीडेंट फाइबर एंटीसिमेट्री आदि गुणों से भरा हुआ होता है। यह सभी तत्व अजवाइन में प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं।

हाल ही में वैलनेस कोच ल्युक कांउटिहो ने अपनी सोशल मीडिया साइट पर अजवाइन के लाभ को लेकर एक वीडियो बनाकर शेयर किया था इस वीडियो में उन्होंने अजवाइन के लाभ के साथ अजवाइन का प्रयोग करने के तरीके भी बताए थे।

Ajwain

Benefits Of Ajwain। अजवाइन के फायदे

1.Benefits Of Ajwain Indigestion (अपच )

आजकल कई लोगों में अपच की समस्या आम है। समस्या में अजवाइन का उपयोग करना काफी फायदेमंद होता है। अजवाइन हमारे पेट में डाइजेस्टिव एंजाइम को रेगुलेट करता है जो भोजन के पाचन की गतिविधियों में तेजी लाते हैं। अपच को रोकने तथा अपच का इलाज में अजवायन एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।आप अपाचे से छुटकारा पाने के लिए साथ थोड़ा सा जीरा थोड़ी सी सौंफ तथा तोड़ से अजवाइन के बुने हुए गानों को पीस ले तथा पाउडर के रूप में बनाकर उसका प्रयोग कर सकते हैं।

2. Benefits Of Ajwain For Acidity (एसिडिटी की समस्या)

अजवाइन का प्रयोग करने के करने से हमारे शरीर में एसिडिटी की समस्या से तुरंत निजात पाया जा सकता है।गैस की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप अजवाइन को गर्म पानी के साथ या फिर अजवाइन का पानी पी सकते हैं। अजवाइन का पानी बनाने के लिए आपको 250 ग्राम अजवाइन को 4 कप पानी में डालकर उबाल ना होगा। और इसे तब तक पकाना  है जब तक यह थिक पेस्ट बन  जाए और जब यह गाढ़ा हो जाए तो इसे एक बर्तन में रख ले । और जब भी आपको लगे कि आपके पेट में गैस बन रही है।तबआप इसका सेवन कर सकते हैं।

अजवाइन की मदद से आप सीने में जलन, खट्टी डकार आना, पेट में दर्द, पेट में गुड़गुड़ाहट आदि रोगों से छुटकारा पा सकते हैं।पेट फूलने के पेट में गैस बनने जैसी समस्याओं को निजात पाने के लिए आप अजवाइन को बारीक पीसकर उसमें थोड़ी सी मात्रा में हींग मिलाकर लेप बनाकर अपने पेट पर लगा सकते हैं। इससे आपको तुरंत आराम मिलेगा।

3. Benefits Of Ajwain For Stomach Worms ( पेट के कीड़ो के लिए )

हमारे पेट में कई प्रकार के पैरासाइट और बैक्टीरिया उपलब्ध होते हैं। कभी-कभी यह बैक्टीरिया तथा पैरासाइट हमारे पोषण चुराने शुरू कर देते हैं। और पेट से जुड़ी कई समस्याओं की वजह बन जाते हैं। इनके कारण कई बार अपच और मतली आदि समस्याएं पैदा हो जाती है। इस समस्या से निजात पाने के लिए आपको दिन में 3 ग्राम अजवायन को छाछ में मिलाकर 1 महीने के लिए प्रतिदिन दिन में 2 बार सेवन करना होगा।

इसके अतिरिक्त आप अजवाइन को सुबह खाली पेट गुड़ के साथ या खाने के बाद भी सेवन कर सकते हैं। ऐसा करने से आपकी पेट है तथा आपके नुकसान कारक कीड़े नष्ट हो जाते हैं। अगर यह परेशानी आपके बच्चों में है तो बच्चों के लिए 2 ग्राम अजवायन को काला नमक के साथ मिलाकर सुबह बच्चों  को खिलाएं।

Ajwain

4. Benefits Of Ajwain During Pregnancy(गर्भावस्था के दौरान)

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को सुबह उठते ही मॉर्निंग सिकनेस यानी मतली आदि की समस्याएं महसूस होने लगती है। इस समस्या से निजात पाने के लिए आप अजवाइन को गर्म चाय के साथ पी सकते हैं। अजवाइन मूड बूस्टर के रूप में कार्य करता है। अजवाइन की एक चम्मच सेवन करने से मतली की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। गर्भावस्था के समय आप एक कप पानी में अजवाइन को उबाल फिर ऐसे गुड़िया शहद में मिला ले और अगर यदि आप चाहे तो स्वाद के लिए नींबू भी डाल सकते हैं। फिर इसे गर्म चाय के साथ ले।

5. Benefits Of Ajwain Pain of the arthritis (अर्थराइटिस के दर्द )

अर्थराइटिस के दर्द से निजात दिलाने के लिए अजवायन एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। अजवाइन में एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं जो पुरानी या दीर्घकालिक सूजन को कम करने की में सहायक होते हैं। इसमें एंटीबायोटिक गुण भी होता है जो ब्राइटनेस को कम करने और सूजन को कम करने में सहायक होता है। अजवाइन में हाई सनसिटी गुण भी उपलब्ध होता है जो पीयूष टिशूज को आराम देता है। आप अजवाइन को पीसकर पेस्ट बनाकर जोड़ों पर लगाएं या उसे ऊबालकर दर्द की सिकाई करें तो आप इन सभी समस्याओं से निजात पा सकते हैं। 

6. Benefits Of Ajwain For Pimple Free Face (चेहरे को पिंपल फ्री बनाने)

चेहरे को पिंपल फ्री बनाने तथा त्वचा को साफ रखने करने के लिए अजवाइन काफी फायदेमंद होता है मुहांसों को के निशान को हल्का करने के लिए अजवाइन पाउडर का इस्तेमाल लाभदायी माना जाता है। अजवाइन के बीज प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट तथा anti inflammatory गुणों से भरपूर होता है। यह लालिमा और सूजन को रोकते हैं। इसके लिए आप अजवाइन को गर्म पानी के साथ पेस्ट बनाकर 10 से 15 मिनट के लिए प्रभावित क्षेत्र पर लगा कर रख सकते हैं ।और 10 से 15 मिनट पश्चात इसे धो ले।  लगातार कुछ दिनों के लिए इसका प्रयोग करने पर आप पिंपल्स की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

7. Benefits Of Ajwain For New Born Babies(शिशुओं के लिए )

कई बार पेट दर्द और गैस जैसी समस्याएं शिशुओं में उत्पन्न हो जाती है। ऐसे में अजवाइन का प्रयोग करना काफी फायदेमंद माना जाता है। इस स्थिति ने आप अजवाइन को गरम के सरसो या घी में मिलाकर शिशु की नाभि पर लगा दे । इस शिशु को पेट दर्द से छुटकारा मिल जाएगा। आप हलके साफ कपड़े में अजवाइन डाल कर शिशु को चटवा भी सकते है।ऐसा करने से शिशु को पेट दर्द से तुरंत निजात मिल जाएगा।

8. Benefits Of Ajwain For High Blood Pressure ( रक्तचाप के लिए )

हाई ब्लड प्रेशर एक ऐसी समस्या हैं जिसके कारण हृदय रोग और स्ट्रोक के खतरे बढ़ जाते हैं। इस समस्या से बचने के लिए आप अजवाइन का प्रयोग कर सकते हैं। आयुर्वेदिक उपचार में कैल्शियम चैनल ब्लॉकर्स जैसी औषधि का उपयोग भी सम्मिलित है ।अजवाइन ब्लॉकर्स कैल्शियम को आपके हृदय की कोशिकाओं में प्रवेश करने से रोकता है ।और रक्त वाहिकाओं को फैला देता है जिसके फलस्वरूप आपका ब्लड प्रेशर (रक्तचाप) कम हो जाता है। अजवाइन भी कैल्शियम चैनल ब्लॉकर्स के अनुरूप कार्य करता है और रक्तचाप को कम करने में सहायता करता है।

Ajwain

9. Benefits Of Ajwain For Migraine (माइग्रेन के दर्द)

माइग्रेन के दर्द से राहत प्राप्त करने के लिए आप अजवाइन का प्रयोग कर सकते हैं।माइग्रेन के दर्द से निपटने के लिए छुटकारा पाने के लिए आप अजवाइन अदरक और काले नमक का मिश्रण बनाकर उसका सेवन करें।यदि आपको इसका स्वाद थोड़ा ठीक नहीं लगी तो आप इस मिश्रण में पानी भी मिलाकर पी सकते हैं।इसके अतिरिक्त आप इस मिश्रण को टिशू पेपर पर रखकर उन्हें बार-बार सूंघ सकते है। और आप यदि शीघ्र परिणाम चाहते हैं तो इसे जला कर सकते हैं।

10. Benefits Of Ajwain For Teeths( दांतो में दर्द )

यदि अचानक से आपकी दांतो में दर्द हो तो आप इस से छुटकारा पाने के लिए अजवाइन के बीजों का प्रयोग कर सकते हैं। आपको ज्वाइन किए भेजो को अपने दांतों के बीच में दबाकर रखना होगा।अपने मुंह को हमेशा साफ रखने के लिए आप अजवाइन के बीजों का प्रयोग कर सकते हैं अजवाइन के बीज आपके दांतो को कैविटी और सांसों की बदबू से भी बचाते हैं।

यह भी पढ़िए: Benefits of Jeera

अजवाइन का प्रयोग करके आप सर्दी जुकाम से राहत प्राप्त के सकते है क्योंकि अजवाइन में एंटी ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते है।

For More information regarding the Benefits Of Ajwain ( Carom Seeds): Click Here

अजवाइन क्या है?

अजवाइन मसाले का एक हिस्सा होती है।अजवाइन के बीज छोटे अंडाकार आकार के होते हैं।अजवाई जीरा तथा सौंफ के परिवार से संबंध रखता है। अजवाइन का वैज्ञानिक नाम ट्रेकिस्पर्मम अम्मी (Trachyspermum ammi) है।अजवाइन स्वाद में कड़वी तथा तीखी होती है। अजवाइन को विभिन्न राज्यों में विभिन्न नामो से जाना जाता है, जैसे कि तमिल में ओमम, कन्नड़ में ओम कलुगलु, तेलुगु में वामु और मलयालम में अयोधमकम आदि।

एसिडिटी की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अजवाइन कैसे फायदेमंद है बताइए?

अजवाइन का प्रयोग करने के करने से हमारे शरीर में एसिडिटी की समस्या से तुरंत निजात पाया जा सकता है।गैस की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप अजवाइन को गर्म पानी के साथ या फिर अजवाइन का पानी पी सकते हैं। अजवाइन का पानी बनाने के लिए आपको 250 ग्राम अजवाइन को 4 कप पानी में डालकर उबाल ना होगा। और इसे तब तक पकाना  है जब तक यह थिक पेस्ट बन  जाए और जब यह गाढ़ा हो जाए तो इसे एक बर्तन में रख ले । और जब भी आपको लगे कि आपके पेट में गैस बन रही है।तबआप इसका सेवन कर सकते हैं।

शिशुओं के लिए के लिए अजवाइन कैसे उपयोगी है बताईये?

कई बार पेट दर्द और गैस जैसी समस्याएं शिशुओं में उत्पन्न हो जाती है। ऐसे में अजवाइन का प्रयोग करना काफी फायदेमंद माना जाता है। इस स्थिति ने आप अजवाइन को गरम के सरसो या घी में मिलाकर शिशु की नाभि पर लगा दे । इस शिशु को पेट दर्द से छुटकारा मिल जाएगा। आप हलके साफ कपड़े में अजवाइन डाल कर शिशु को चटवा भी सकते है।ऐसा करने से शिशु को पेट दर्द से तुरंत निजात मिल जाएगा।

माइग्रेन के दर्द को दूर करने के लिए क्या करें?

माइग्रेन के दर्द से राहत प्राप्त करने के लिए आप अजवाइन का प्रयोग कर सकते हैं।माइग्रेन के दर्द से निपटने के लिए छुटकारा पाने के लिए आप अजवाइन अदरक और काले नमक का मिश्रण बनाकर उसका सेवन करें।यदि आपको इसका स्वाद थोड़ा ठीक नहीं लगी तो आप इस मिश्रण में पानी भी मिलाकर पी सकते हैं।इसके अतिरिक्त आप इस मिश्रण को टिशू पेपर पर रखकर उन्हें बार-बार सूंघ सकते है। और आप यदि शीघ्र परिणाम चाहते हैं तो इसे जला कर सकते हैं।