8 Amazing Health Benefits of Amla in Hindi ( जानिए आंवला खाने के फायदे )

0
938
benefits of amla murabba

Benefits Of Amla Murabba:- विटामिन-सी से भरपूर आंवला, हर मौसम में लाभदायक होता है। यह आंखों, बालों और त्वचा के लिए तो फायदेमंद है ही, साथ ही इसके और भी कई फायदे हैं, जो आपके शरीर को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करते हैं। आमतौर पर आंवले का प्रयोग अचार, मुरब्बा या चटनी के रूप में किया जाता है,लेकिन इसका ( benefits of amla murabba ) अलग-अलग तरह से सेवन आपके लिए बेहद उपयोगी है।

Benefits Of Amla Murabba

Table of Contents

अगर आप नहीं जानते इस अनमोल फल के बारे में तो जरूर पढ़ि‍ए . आंवला एक वंडर फूड है. यानी कि इस छोटे से फल में ऐसे चमत्‍कारिक गुण है जो शरीर के लिए बेहद गुणकारी हैं. यह न सिर्फ हमारे शरीर की इम्‍यूनिटी बढ़ाता है बल्‍कि कई बीमारियों को जड़ से भी खत्‍म करता है |

आंवला में विटामिन C, विटामिन AB Complex, Potassium, Calcium, Magnesium, Iron, Carbohydrate, Fiber and Diuretic Acid होते हैं| शायद यही वजह है कि आंवला को 100 रोगों की एक दवा माना जाता है. शायद इस लिए ही आवंला की तुलना अमृत से की गई है. इस बात में कोई शक नहीं कि आंवला एक वंडर फूड है. इस छोटे से फल में ऐसे गुण हैं जो शरीर के लिए बेहद फायदेमंद हैं|

आंवला में ( benefits of amla murabba ) मौजूद गुण शरीर की इम्‍यूनिटी बढ़ाते हैं और साथ ही कई बीमारियों को जड़ से भी खत्‍म करता है. 1. आंवला डायबिटीज से परेशान लोगों के लिए किसी अमृत से कम नहीं है. दरअसल, आंवले में क्रोमियम तत्‍व पाए जाते हैं जो इंसुलिन हारमोंस को मजबूत कर खून में शुगर लेवल को कंट्रोल करते हैं|

अगर आपको डायबिटीज है तो आंवले के रस में शहद मिलाकर पीने से बहुत आराम मिलेगा. ये तो हम सभी जानते हैं कि आंवला त्वचा और बाल दोनों के लिए ही बहुत फायदेमंद होता है. बाजार में बिकने वाले कई ब्यूटी-प्रोडक्ट्स का ये मूल तत्व होता है लेकिन स्वास्थ्य से जुड़े इसके फायदों के बारे में ( benefits of amla murabba ) आपको शायद ही पता हो. महिलाओं का लुक्स सिर्फ मेकअप पर ही नहीं, बल्कि खूबसूरत बालों पर भी निर्भर करता है।

हालांकि, बालों को बढ़ाना और उनकी देखभाल करना आसान नहीं होता है। अगर कोई अपने बालों को लेकर परेशान हैं, तो यह आर्टिकल खास उसी के लिए है। बालों के लिए घरेलू नुस्खे कारगर साबित हो सकते हैं।

घरेलू नुस्खों के तहत बाजार में आसानी से मिलने वाला आंवला फायदेमंद हो सकता है। बालों की ग्रोथ के लिए आंवला कई वर्षों से उपयोग किया जाता रहा है। बाल बढ़ाने के लिए आंवला का उपयोग कैसे करें और बालों के लिए आंवला कैसे फायदेमंद हो सकता है, इस लेख में हम इन्हीं मुद्दों पर चर्चा करेंगेआयुर्वेद के अनुसार, आंवला एक ऐसा फल है, जिसके अनगिनत लाभ हैं।

आंवला ( benefits of amla murabba ) ना सिर्फ त्वचा, और बालों के लिए फायदेमंद है, बल्कि कई तरह के रोगों के लिए औषधि के रूप में भी काम करता है। आंवला का प्रयोग कई तरह से किया जाता है, जैसे- आमला जूस आंवला पाउडर आंवला अचार आदि। आंवला में प्रचुर मात्रा में विटामिन, मिनरल, और न्यूट्रिएन्ट्स होते हैं, जो आंवला को अनमोल गुणों वाला बनाते हैं। ।

आंवला क्या है

आंवला को आयुर्वेद में अमृतफल या धात्रीफल कहा गया है। वैदिक काल से ही आंवला का प्रयोग औषधि के रूप में किया जा रहा है। पेड़-पौधे से जो औषधि बनती है उसको काष्ठौषधि कहते हैं और धातु-खनिज से जो औषधि बनती है उनको रसौषधि कहते हैं। इन दोनों तरह की औषधि में आंवला का ( benefits of amla murabba ) इस्तेमाल किया जाता है। यहां तक कि आंवला को रसायन द्रव्यों में सबसे अच्छा माना जाता है यानि कहने का मतलब ये है कि जब बाल बेजान और रूखे-सूखे हो जाते हैं तब आंवला का प्रयोग करने पर बालों में एक नई जान आ जाती है।

आंवला का पेस्ट लगाने पर रूखे बाल काले, घने और चमकदार नजर आने लगाते हैं। आंवला को इंडियन गूजबेरी भी कहा जाता है। यह बालों और स्कैल्प के लिए गुणों ( benefits of amla murabba) का खजाना है। इसे बालों की स्वच्छता में सुधार लाने के लिए लंबे समय से शैम्पू और हेयर ऑयल में इस्तेमाल किया जाता रहा है। आंवले का उपयोग बालों के विकास और रंग (पिगमेंटेशन) को बढ़ाने के लिए पारंपरिक नुस्खों में हेयर टॉनिक की तरह किया जा सकता है। इसके बारे में हम नीचे विस्तार से बता रहे हैं ।

benefits of amla murabba

अन्य भाषाओं में आंवला के नाम ( Name of Amla in Different Languages )

Amla in

1) Name of Amla in Hindi- आमला, आँवला, आंवरा, आंबला औरा;

2) Name of Amla in Urdu- आँवला (Anwala); Name of Amla in Oriya- औंला (Onola);

3) Name of Amla in Assamese- अमला (Amla), आमलुकी (Amluki);

4) Name of Amla in Kannada- नेल्लि (Nelli), नेल्लिकाय (Nellikai);

5) Name of Amla in Gujarati- आमला (Amla), आमली (Amli);

6) Name of Amla in Tamil- नेल्लिमार (Nellimaram);

7) Name of Amla in Telugu- उसरिकाय (Usirikai);

8) Name of Amla in Bengali- आमला (Amla), आमलकी (Amlaki);

9) Name of Amla in Nepali- अमला (Amla);

10) Name of Amla in Punjabi- आमला (Amla);

11) Name of Amla in Marathi- आँवले (Anwale), आवलकाठी (Aawalkathi);

12) Name of Amla in Malayalam- नेल्लिका (Nellikka), नेल्लिमारम (Nellimaram)।

13) Name of Amla in English- इण्डियन गूजबेरी (Indian gooseberry);

14) Name of Amla in Arabic- आमलज्ज (Amlajj);

15) Name of Amla in Persian- आमलह (Amlah), आम्लाझ (Amlazh) कहते हैं।

आंवला के फायदे – Benefits Of Amla in Hindi

खाने-पीने की जब भी बात आती है, तो मौसम का अहम रोल होता है। जैसे, अक्सर ( benefits of amla murabba ) लोग इस बात को लेकर दुविधा में रहते हैं कि सर्दियों में कौन-सी चीजें नहीं खानी चाहिए या गर्मियों में जो चीजें वे फिट रहने के लिए खाते आ रहे हैं, क्या ठंड में उनका सेवन छोड़ देना चाहिए?

आंवले के बारे में भी ज्यादातर लोग सोचते हैं कि ठंड में आंवला नहीं खाना चाहिए लेकिन आयुर्वेद के अनुसार ठंड के मौसम में आंवले का सेवन आपको कई बीमारियों से बचाता है। आंवला जिसे इंडियन गूसबेरी भी कहा जाता है, हमारे स्वाथ्यय के लिए बेहद फायदेमंद है। आइए, जानते हैं ठंड में आंवला खाने के फायदे

1) बालों की समस्या के लिए ( Benefits Of Amla for Hair Problem )

benefits of amla murabba

सफेद बालों की समस्या से हर उम्र के लोग जूझ रहे हैं। आंवला के मिश्रण का लेप लगाने से कुछ ही दिनों में बाल काले हो जाते हैं। 30 ग्राम सूखे आंवला, 10 ग्राम बहेड़ा, 50 ग्राम आम की गुठली की गिरी और 10 ग्राम लौह भस्म लें। इन्हें रात भर लोहे की कढ़ाई में भिगोकर रखें। अगर कम उम्र में बाल सफेद हो रहे हैं तो इस लेप को रोज लगाएं। कुछ ही दिनों में बाल काले होने लगते हैं।

आंवला, रीठा और शिकाकाई को मिलाकर ( benefits of amla murabba ) काढ़ा बना लें। इसे बालों में लगायें। सूखने के बाद पानी से बालों को धो लें। इससे बाल मुलायम, घने और लंबे होते हैं।(शिकाकाई के फायदे) आंवले का फल, आम की गुठली के मज्जा को एक साथ पीस लें। इसे सिर पर लगाने से बालों की जड़ें मजबूत होती हैं और बाल काले हो जाते हैं। लौह भस्म और आमला चूर्ण को गुड़हल फूल के साथ पीस लें। इसे नहाने से पहले सिर में कुछ देर लगाकर रखें, और फिर पानी से धो लें। इससे बाल सफेद नहीं होते हैं।

2) आंखों की बीमारी के लिए ( Benefits Of Amla for Eyes )

benefits of amla murabba

आंवले के 1-2 बूंद रस को आंखों में डालने से आंखों के दर्द से राहत मिलती है। आंवले के बीज को घिसकर आंखों में लगाने से आंखों के रोग में फायदा पहुंचता है। अपांप्म, आंवले का रस, धाय के फूल, नीलाथोथा तथा खपरिया तुत्थ को नींबू के रस से मिला लें। इसकी गोली बनाकर आंखों में काजल की तरह लगाने से आंखों के अनेक रोग ठीक होते हैं। 7 ग्राम आंवले को जौ के साथ कुटकर ठंडे पानी में भिगो लें। दो-तीन घंटे बाद आंवलों को निचोड़ कर निकाल लें।

इसी पानी में फिर से दूसरे आंवला को ऐसे ही भिगो दें। दो-तीन घंटे बाद फिर निचोड़ कर निकाल लें। इस ( benefits of amla murabba) तरह तीन-चार बार करें। इस पानी को आंखों में डालने से आँखों की सूजन कम होती है। आंवले के पत्ते और फल का मिश्रण आंखों में लगाएं। इससे आंख आने की परेशानी से राहत मिलती है। आंवले को पीसकर पेस्ट बना लें, और उसकी पोटली बनाकर आंखों पर बांधें। इससे पित्त दोष के कारण होने वाली आंखों की खुजली, जलन आदि की परेशानी में लाभ मिलता है।

3) गले में खराश के लिए ( Benefits Of Amla for sore throat )

गले में खराश होने पर आंवले का उपयोग आपको फायदा पंहुचाता है।आंवला में लवण रस को छोड़ कर सभी पांच रस (मधुर-अम्ल -कटु -तिक्त -कषाय) होते है। अतः इसके मधुर और कषाय रस के कारण ये गले की खराश को कम करने में सहायता करता है। अगर गले में खराश सूजन के कारण है तो इसका ( benefits of amla murabba ) शीत गुण और मधुर शोथ या सूजन को कम कर गले को आराम देता है।

4) विटामिन सी से भरपूर है ( Benefits Of Amla for vitamin C )

आंवला विटामिन सी का काफी अच्छा स्रोत है। इसमें एक संतरे की तुलना में 8 गुना अधिक विटामिन सी होता है और 1 आंवले में संतरे से 17 गुना अधिक एंटीऑक्सिडेंट होता है। विटामिन सी के साथ-साथ ( benefits of amla murabba ) यह कैल्शियम का भी एक समृद्ध स्रोत है। यह आपको कई मौसमी बीमारियों से दूर रखने के साथ-साथ सर्दी या खांसी में भी राहत दिलाता है।

5) त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए ( Benefits Of Amla for dermatological )

benefits of amla murabba

आंवले की गुठली के चूर्ण के प्रयोग से दाद-खाज या खुजली की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। आंवले की गुठली का पाउडर बनाकर इसमें नारियल तेल मिलाकर रख लें। शरीर के ज‍िस ह‍िस्से में इंफेक्शन हो, वहां इसे लगाएं, कुछ ही दिनों में समस्या दूर हो जाएगी। दूसरा तरीका है- आंवले के बीज ( benefits of amla murabba )को जलाकर भस्म बना लें। अब इस पाउडर में शुद्ध नारियल तेल मिलाकर शीशी में भर लें। गीली या सूखी किसी भी प्रकार की खुजली पर लगाने से काफी आराम मिलता है।

6) यूरिनरी सिस्टम संबंधित परेशानियों के लिए ( Benefits Of Amla for Urinary system )

benefits of amla murabba

यूरिनेशन न होने की समस्या बच्चे, महिला या पुरुष किसी को भी हो सकती हैं, लेकिन सामान्य रूप से यह समस्या बुजुर्ग पुरुषों में अधिक देखने को मिलती है। वजह यह है कि बढ़ती उम्र में बुजुर्ग पुरुषों की प्रोस्टेट ग्रंथि (वीर्य बनाने वाले ग्रंथि) में सूजन आ जाती है। ऐसे में आवंला का सेवन इस समस्या से राहत पाने का एक बेहतर विकल्प (benefits of amla murabba ) साबित हो सकता है।

विशेषज्ञों के मुताबिक आयुर्वेद में कई ऐसे फल, फूल या जड़ी-बूटियां शामिल हैं, जिनमें डियूरेटिक (मूत्रवर्धक) गुण पाए जाते हैं। इनमें आंवला का नाम भी शामिल है। इसलिए, यह कहा जा सकता है कि आंवला या आमला का जूस के फायदे यूरीनेशन न होने की समस्या में कुछ हद तक मददगार साबित होते हैं।

7) हड्डियों को मजबूत करने के लिए ( Benefits Of Amla for Strong bons )

benefits of amla murabba

विशेषज्ञों के मुताबिक आंवला में Antiinflammatory (सूजन कम करने वाला) गुण पाया जाता है। यह गुण आर्थराइटिस (गठिया) की समस्या में होने वाली जोड़ों की सूजन को कम करने में मदद करता है। वहीं, इसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन सी भी मौजूद होता है। विटामिन सी हड्डियों की मजबूती के लिए अहम माना जाता है ।

इस आधार पर हम यह कह सकते हैं कि कहीं न कहीं हड्डियों को मजबूती प्रदान ( benefits of amla murabba) करने में आंवला सहायक साबित होता है। हालांकि, हड्डियों के विकास और मजबूती के लिए आंवला खाने के फायदे कितने सहायक हैं, इस बात का कोई स्पष्ट प्रमाण उपलब्ध नहीं है।

8) प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए ( Benefits Of Amla for buffering capacity )

आंवला खाने के फायदे में शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में सुधार भी शामिल है। दरअसल, Journal of Pharmacognosy and Phytochemistry के मुताबिक आंवला में ऊर्जा और प्रतिरोधक क्षमता दोनों को बढ़ाने की क्षमता मौजूद होती है। इसलिए, इसे रोगों से बचाने वाला टॉनिक भी कहा जाता है।

वहीं दूसरी ओर, आंवला पर किए गए ( benefits of amla murabba ) एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि आंवला में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण मुक्त कणों के प्रभाव को कम कर प्रतिरोधक क्षमता में सुधार कर सकते हैं। इस आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी आंवला सहायक साबित होता है। हालांकि, प्रतिरोधक क्षमता में सुधार के लिए यह किस तरह शरीर पर काम करता है,

बालों की ग्रोथ के लिए आंवला का उपयोग

1) आंवला का तेल

सामग्री :

  1. दो चम्मच आंवला पाउडर

2. दो चम्मच नारियल या जैतून तेल

बनाने की विधि :

एक पैन में तेल को गर्म करें और इसमें आंवला पाउडर बालों के लिए डालें। तेल को तब तक गर्म करें, जब तक कि इसका रंग भूरा न हो जाए। फिर गैस को बंद करके तेल को ठंडा होने के लिए छोड़ दें। एक बार जब पाउडर जम जाए, तो तेल को एक कटोरे में इकट्ठा कर लें। जब यह गुनगुना हो, तो इससे अपने बालों और स्कैल्प पर 15 मिनट तक मालिश करें। मालिश के बाद आधे ( benefits of amla murabba) घंटे तक तेल को बालों में लगा रहने दें। फिर हल्के या सल्फेट-फ्री शैम्पू और गुनगुने या ठंडे पानी से बाल धो लें।

कब लगाएं?

A) इसे हफ्ते में तीन बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

2) बालों को बढ़ाने के लिए

सामग्री :

1) दो चम्मच आंवला पाउडर

2) दो चम्मच शिकाकाई पाउडर

3) चार चम्मच पानी (आवश्यकतानुसार)

बनाने की विधि :

एक कटोरे में आंवला, शिकाकाई पाउडर और पानी डालकर पेस्ट बना लें। अब इस पेस्ट को हेयर मास्क की तरह अपने स्कैल्प और बालों में लगाएं। जब स्कैल्प और बालों में यह पेस्ट पूरी तरीके से लग जाए, तब इसे 40 मिनट तक के लिए सूखने के लिए छोड़ दें। सूखने के बाद बालों को ठंडे पानी से धो लें। अगर लगे कि ( benefits of amla murabba) बाल और स्कैल्प साफ हैं, तो शैंपू नहीं भी कर सकते हैं, क्योंकि शिकाकाई शैंपू की तरह काम करता है। इसमें स्कैल्प और बालों को साफ करने के गुण शामिल होते हैं।

कब लगाएं?

A) बालों को बढ़ाने के लिए आंवला के फायदे लेने के लिए हफ्ते में एक बार इस पेस्ट को लगा सकते हैं।

आंवले की खुराक (Dosage of Amla)

आमतौर पर आप आंवले का सेवन कई तरह से कर सकते हैं। आंवले का कच्चा फल, आमला जूस, आमला चूर्ण, आमला कैंडी या आंवले का मुरब्बा ( benefits of amla murabba ) बनाकर इसका सेवन किया जा सकता है। इस लेख में ऊपर यह बताया गया है कि कौन सी बीमारी में कितनी मात्रा में आंवले का सेवन करना चाहिए।

यहां यह बात ध्यान रखिये कि बहुत अधिक मात्रा में आंवले का सेवन करने से आंवला के नुकसान हो सकते हैं। इसलिए अगर आप किसी बीमारी के घरेलू उपाय के लिए आंवले का सेवन करना चाहते हैं तो बेहतर होगा कि किसी आयुर्वेदिक विशेषज्ञ से सलाह लेकर सेवन करें।

आंवला क्या है?

आंवला को आयुर्वेद में अमृतफल या धात्रीफल कहा गया है। वैदिक काल से ही आंवला का प्रयोग औषधि के रूप में किया जा रहा है। पेड़-पौधे से जो औषधि बनती है उसको काष्ठौषधि कहते हैं और धातु-खनिज से जो औषधि बनती है उनको रसौषधि कहते हैं। इन दोनों तरह की औषधि में आंवला का (benefits of amla murabba ) इस्तेमाल किया जाता है। यहां तक कि आंवला को रसायन द्रव्यों में सबसे अच्छा माना जाता है यानि कहने का मतलब ये है कि जब बाल बेजान और रूखे-सूखे हो जाते हैं तब आंवला का प्रयोग करने पर बालों में एक नई जान आ जाती है।

त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए के लिए आँवला कैसे फायदेमंद होगा बताईये?

आंवले की गुठली के चूर्ण के प्रयोग से दाद-खाज या खुजली की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। आंवले की गुठली का पाउडर बनाकर इसमें नारियल तेल मिलाकर रख लें। शरीर के ज‍िस ह‍िस्से में इंफेक्शन हो, वहां इसे लगाएं, कुछ ही दिनों में समस्या दूर हो जाएगी। दूसरा तरीका है- आंवले के बीज (benefits of amla murabba )को जलाकर भस्म बना लें। अब इस पाउडर में शुद्ध नारियल तेल मिलाकर शीशी में भर लें। गीली या सूखी किसी भी प्रकार की खुजली पर लगाने से काफी आराम मिलता है।

यूरिनरी सिस्टम संबंधित परेशानियों के लिए आँवला कैसे लाभदायक है?

यूरिनेशन न होने की समस्या बच्चे, महिला या पुरुष किसी को भी हो सकती हैं, लेकिन सामान्य रूप से यह समस्या बुजुर्ग पुरुषों में अधिक देखने को मिलती है। वजह यह है कि बढ़ती उम्र में बुजुर्ग पुरुषों की प्रोस्टेट ग्रंथि (वीर्य बनाने वाले ग्रंथि) में सूजन आ जाती है। ऐसे में आवंला का सेवन इस समस्या से राहत पाने का एक बेहतर विकल्प (benefits of amla murabba ) साबित हो सकता है।

For more details regarding the Amla in Hindi: click here