5 Best Organic kajal in India 2021 (आयुर्वेदिक काजल , काजल किया है ?)

0
296

Best kajal in india | organic kajal | organic kajal for babies | organic kajal for baby | organic kajal for eyes | best organic kajal in india | how to make organic kajal at home | organic kajal for babies online |

Best kajal in india

आजकल काजल लगाना महिलाओं का मेकअप ट्रेंड बन चुका है. काजल लगाने से छोटी आंखें भी बड़ी दिखाई देती हैं और आंखों की खूबसूरती कई गुणा बढ़ जाती है. लेकिन गर्मियों में इसे लगाना किसी चैलेंज से कम नहीं है क्योंकि पसीने और ऑयल की वजह से ब्रांडेड काजल भी कुछ ही देर में फैलना शुरू हो जाता है और पूरे चेहरे का लुक खराब कर देता है. आंखें शरीर का सबसे संवेदनशील हिस्सा है। आंखों के श्रृंगार के लिए काजल का इस्तेमाल सदियों से किया जाता रहा है। काजल के इस्तेमाल से आंखें बड़ी और खूबसूरत दिखाई देती हैं। इसके अलावा काजल का औषधीय महत्व भी है।

Best kajal in india

काजल आंखों को ठंडक भी पहुंचाता है और दृष्टि क्षमता में वृद्धि भी करता है। पहले के समय में काजल घरों में ही तैयार किया जाता था। आज भी कई घरों में काजल प्राकृतिक विधि से बनाए जाते हैं लेकिन फिर भी केमिकल्स की सहायता से बनाए गए काजल का उपयोग भी काफी बढ़ा है। इसके कारण तमाम महिलाएं इसे लगाने में परहेज करती हैं. अगर आपके साथ भी ऐसी कोई समस्या आती है तो यहां बताए जा रहे तरीकों से काजल को लगाएं. इससे काजल ब्रांडेड और नॉन ब्रांडेड, कोई भी काजल लॉन्ग लास्टिंग रहेगा. काजल पूरे मेकअप में एक बहुत जरुरी रोल निभाता है, यह आँखों के साथ – साथ पूरे चेहरे की रौनक को भी दो गुना कर देता है .

यहाँ भी देखे : सूखी त्वचा के लिए फेस-वाश

इसलिए बहुत जरुरी है की हम एक सही काजल का चुनाव करें, क्योंकि भारतीय परम्परा के अनुसार ऐसा माना जाता है जिन लड़कियों की आँखें सुन्दर लगती है वह हर जगह आकर्षण का केंद्र बनती है . जब भी आप मेकअप करती हैं तो पूरा मेकअप होने के बाद भी आपको अधूरा सा जरूर महसूस होता होगा। ऐसा आपको तब तक लगता है, जब तक आप अपनी आंखों में काजल नहीं लगा लेती। जी हां दोस्तों, काजल को मेकअप के लिए बहुत ज़रूरी माना जाता है। काली-काली खूबसूरत आंखों को देखकर हर किसी की नजर ठहर जाती है। काजल और लाइनर से संवरी आंखें खूबसूरती को बढ़ाती हैं, लेकिन जरा-सा काजल फैल जाए तो पूरा मेकअप खराब हो जाता है।

Best kajal in india

परफेक्ट काजल कैसे लगाएं और इसे फैलने से कैसे बचाएं, इसे लेकर हमारी फेमिना रीडर्स बता रही हैं कुछ छोटे-छोटे टिप्स। यकीन मानिए, इन टिप्स को आजमाकर आप आंखों को ऐसा लुक दे पाएंगी कि सभी तारीफ करते नहीं थकेंगे यह आपकी आंखों को खूबसूरत दिखाने में अपनी एक अहम भूमिका निभाता है। यदि आप चेहरे पर कोई भी मेकअप ना करें और सिर्फ काजल लगा लें तो यह भी आपको एक अलग और खास लुक देता है। आप शादी में जाएं, पार्टी में जाएं या फिर पार्टनर के साथ डेट पर जाएं। काजल सामने वाले को आकर्षित (Attract) करने में आपकी काफी मदद करता है।

काजल किया है ?

काजल एक श्याम पदार्थ है जो धुंए की कालिख और तेल तथा कुछ अन्य द्रव्य को मिलाकर बनाया जाता है। इसका पारम्परिक हिन्दू श्रृंगार में बहुत प्रयोग किया जाता है। इसमें कार्बन की मात्रा अधिक रहती है। परफेक्ट काजल कैसे लगाएं और इसे फैलने से कैसे बचाएं, इसे लेकर हम बता रही हैं कुछ छोटे-छोटे टिप्स। यकीन मानिए .

बेस्ट काजल खरीदने का सही तरीका :

  • काजल हमेशा स्मज प्रूफ ही खरीदें। ऐसा काजल पूरा दिन आपकी आंखों (Eyes) में टिका रहेगा।
  • अगर आपकी आईलिड्स ऑयली हैं तो ऐसे में आप ऑयल-फ्री Kajal का इस्तेमाल कर सकती हैं।
  • सभी प्रकार की आंखों के लिए आप एक हर्बल काजल ले सकती हैं।
  • इस काजल में बहुत ही कम मात्रा में केमिकल को मिलाया जाता है
  • जिसकी वजह से यह आपकी आंखों के लिए सुरक्षित (Secure) होता है।
  • इसके अलावा यदि आपकी आंखें सेंसिटिव हैं, तो आपको ऐसे काजल को सेलेक्ट करना चाहिए जो त्वचा विशेषज्ञ (Dermatologist) द्वारा टेस्टेड हो।
  • किसी भी रंग का काजल लेते समय आप यह जरूर ध्यान रखें कि उसका टेक्सचर गाढ़ा हो तथा वह गहरा रंग देने वाला हो। जब भी आप काजल खरीदें तो हमेशा किसी ऑथराइज्ड सेलर से ही लें।
  • ऐसा करने से आप नकली उत्पाद (Product) से बच सकती हैं।

Best kajal in india

यहाँ भी देखे : 5 बेस्ट फेस स्क्रब्स in 2021

घर पर आयुर्वेदिक काजल बनाने की विधि ( Ghar par kajal banane ki vidhi ) –

मौजूदा समय में बाजार में आपको कई ब्रांड्स का रेडीमेट काजल बड़ी आसानी से मिल जाता है। लेकिन इन सभी में केमिकल मिला होता है इसलिए इनका लम्बे समय तक उपयोग नुकसानदायक रहता है। इस की जगह आप होममेड या आयुर्वेदिक काजल का प्रयोग कर सकते हैं आयुर्वेदिक काजल बनाने में उपयोग की जाने वाली अधिकतर सामग्री आपको अपने घर पर ही बड़ी आसानी से उपलब्ध हो जाती है।

साथ ही इसका प्रयोग केमिकल युक्त काजल की तरह नुकसानदेय नहीं होता। काजल की जो बात इसे अन्य मेकअप उत्पादों से अलग बनती है वो यह है कि इसका प्रयोग महिलाओं के साथ-साथ पुरुष भी कर सकते हैं। इसका प्रयोग न सिर्फ आँखों के मेकअप के लिए किया जाता है बल्कि इसका प्रयोग काले टीके की तरह भी किया जाता है। खासतौर पर छोटे बच्चों को बुरी नजर से बचाने के लिए उन्हें काजल का टीका लगाया जाता है।

1) सरसों के तेल से बनाएं काजल

इस विधि से काजल बनाने के लिए दो सामान आकर के कप या गिलास लीजिए और इनके बीच में एक दिया रख दीजिए। अब इस दिए में सरसों का तेल डालिए और फिर दिये में बत्ती बना कर डाल दें। अब दिए को जला लें और एक प्लेट को दोनों कप के ऊपर रख दें। यहाँ आपको इस बात का ध्यान देना होगा कि प्लेट रखने से दिए की लौ बुझने न पाए। इसके अलावा दिए को जमीन से इतनी हाइट पे रखें कि उसकी लौ प्लेट को छू ले। रात भर के लिए दिए को जलने दें, ऐसा करने पर दिए के ऊपर रखी प्लेट पर एक काली पर्त जमा हो जाती है। अगली सुबह इस कार्बन कोटिंग को खुरच कर निकाल लें और इसे एक डिब्बी में भर दें। इसके बाद इसमें बहुत थोड़ा सा देसी घी मिला लें। आपका होममेड आयुर्वेदिक काजल बन कर तैयार हो जाएगी .

2) बादाम से बनाएं काजल

इस विधि से काजल बनाने के लिए सबसे पहले एक दो कप या गिलास लें और उनके बीच में एक दिया रखें। अब इस दिए में तेल डालें और जला लें। इसके बाद एक प्लेट पर एक या दो बादाम रख कर इसे कप के सहारे दिए की लौ के ऊपर रख दें और बादाम को जलने दें। इस प्रकिया को अन्य बादामों के साथ भी दोहराएं और प्लेट पर जमा हुई कालिख को किसी डिब्बे में इकट्ठा कर लें। आपका होममेड काजल बन कर तैयार हो जायेगा।

3) कपूर से बनाएं काजल

इस विधि से काजल बनाने के लिए एक से दो कपूर के टुकड़े लें और इन्हें एक प्लेट के बीच में रखें। इस प्लेट के दोनों तरफ कपूर रख लें और इस कपूर को जला दें। ऐसा करने के बाद जो कालिख प्लेट और कप में इकट्ठा हुई है उसे खुरच कर निकाल लें। अब इसे एक डिब्बे में भर कर रख दें, आपका आयुर्वेदिक काजल बन कर तैयार है।

4) एलोवेरा से बनाएं काजल

इस विधि से काजल बनाने के लिए आपको चाहिए थोड़ा सा एलोवेरा जेल और केस्टर ऑयल। काजल बनाने के लिए एक दिए में केस्टर ऑयल डालें। अब इस दिए को दो कपों के बीच में रखें और एक प्लेट में एलोवरा जेल डाल कर इसे दोनों कपों का सहारा देकर दिए के ऊपर रख दें। अब दिए में बत्ती डाल कर इसे जला दें और रात भर के लिए इसे जलने छोड़ दें। सुबह होने पर प्लेट में जले हुए एलोवेरा की कालिख को चाकू की मदद से निकाले लें और एक डिब्बी में भर दें।

5) बच्चों के लिए काजल बनाने की विधि

बच्‍चों के लिए घर पर काजल बनाने के लिए आपको दो बादाम, घी, दीपक, एक फोर्क, बाती और एक चम्‍मच की जरूरत होगी। अगर आप ज्‍यादा मात्रा में काजल बनाकर रखना चाहते हैं तो बादाम ज्‍यादा ले सकते हैं। आइए अब जान लेते हैं कि काजल बनाने की रेसिपी क्‍या है।

यहाँ भी देखे : बालों के लिए 10 सबसे अच्छे तेल

काजल बनाने की विधि :

  • सबसे पहले एक दीया लें और उसमें घी डालें।
  • अब इस दीये में बाती लगाकर उसे जला दें।
  • फिर फोर्क में बादाम लगाएं और उसे जलती हुई बाती पर रख दें।
  • बादाम के ऊपर एक चम्‍मच लगाएं जिससे कि बादाम ढक जाए।
  • बाती की आंच से बादाम को जलाएं।
  • जैसे-जैसे बादाम जलेगा, वैसे-वैसे चम्‍मच पर काजल बनने लगेगा।

5 सबसे अच्छे काजल ( Top 5 Kajal in India )

1) Lakme Eyeconic Kajal

यदि आप चाहती हैं कि आपकी आंखें आइकॉनिक दिखे तो आप इस बेहतरीन काजल का इस्तेमाल करें। यह एक Smudge Proof काजल है, इसलिए यह जल्दी फैलता नहीं है। लैक्मे कंपनी यह दावा करती है कि यह काजल 22 घंटों तक आपकी आंखों पर टिका रहता है। इस काजल का यूज आप दो तरह से यानी निचली व ऊपरी वाटर-लाइन पर करके अपनी आंखों को एक खूबसूरत लुक देती हैं। वहीं इसकी विशेषता यह है कि यह काजल ब्लैक के अलावा भी चार बढ़िया शेड्स में मार्केट में (Available) है। आप अपनी पसंद के अनुसार कोई भी color खरीद सकती हैं।

Best kajal in india

गुण :

  • यह काजल वाटर प्रूफ है।
  • यह त्वचा विशेषज्ञ (Dermatologist) द्वारा टेस्टेड काजल है।
  • यह स्मज प्रूफ काजल है, इसलिए जल्दी फैलता भी नहीं है।
  • इसका यूज आप निचली और ऊपरी वाटरलाइन, दोनों पर कर सकती हैं।
  • यह आपको गहरा काला रंग देता है।
  • इस काजल को शार्प करने की आवश्यकता नहीं है।
  • इसकी खास बात यह है कि यह आपके बजट में है।

अवगुण :

  • कंपनी के दावे के अनुसार 22 घंटों तक नहीं टिकता।
  • एक स्ट्रोक में गहरा रंग नही दे पाता।

2) L’Oreal Paris Kajal 

लॉरियल पेरिस के भरोसे के साथ आने वाला यह काजल आपकी आंखों को आकर्षक बनाने काम कर सकता है। कंपनी का कहना है कि यह काजल विटामिन-ई, कोको बटर, जैतून के तेल और विटामिन-सी से युक्त है, जिस कारण यह आंखों के लिए सुरक्षित माना जा सकता है। वहीं, इसका उपयोग ऊपरी और निचली वाटरलाइन पर आसानी से किया जा सकता है और यह पूरे दिन टिका रह सकता है।

Best kajal in india

गुण :

  • संवेदनशील आंखों के लिए भी उपयोगी हो सकता है।
  • लेंस के साथ भी उपयोग किया जा सकता है।
  • एक स्ट्रोक में गहरा काला रंग दे सकता है।
  • स्मज प्रूफ है, जिस कारण आसानी से फैलता नहीं है।
  • वाटर प्रूफ है। स्मूद क्रीमी टेक्सचर है।

अवगुण :

  • यह एक महंगा काजल है।

3) Himalaya Herbals Kajal

Best kajal in india

हिमालया एक हर्बल ब्रांड है, जो अपने प्रोडक्ट्स को बनाने में प्राकृतिक सामग्रियों का यूज करती है। हिमालया का यह 2.7g का काजल भी खास प्राकृतिक सामग्रियों से तैयार हुआ है। कहा जाता है कि इस काजल को बनाने में त्रिफला, दमास्क रोज, बादाम तेल और अरंडी के तेल का इस्तेमाल किया गया है। ये सभी उपयोगी तत्व आपकी आंखों में ठंडक बनाए रखने तथा पोषण पहुंचाने में सहायता कर सकते हैं। इसके अलावा यह काजल आँख की टॉनिक के रूप में भी अपना काम करता है।

गुण :

  • यह काजल बजट में है।
  • इसको प्राकृतिक सामग्री से बनाया गया है।
  • लगाने में यह काजल स्मूद है।
  • इस हर्बल काजल को सभी तरह की आंखों के लिए उपयोगी (Useful) माना जाता है।
  • इससे आपकी आंखों में किसी प्रकार की जलन नहीं होती है।
  • यह एंटीएजिंग गुणों से समृद्ध काजल है।

अवगुण :

  • यह वाटर प्रूफ काजल नहीं है।
  • यह काजल आसानी से फैल जाता है।

4) Colorbar Just Smoky Kajal

यदि आप चाहती हैं कि आपकी आंखें स्मोकी दिखें। तो यह कलरबार काजल आपके लिए एक बढ़िया ऑप्शन साबित हो सकता है। इस 1.2g के काजल से आप स्मूद और क्रीमी टेक्सचर पा सकती हैं। कलरबार के इस पेंसिल काजल के दूसरे छोर पर कंपनी ने एक स्मजर भी दिया है। इसकी हेल्प से आप काजल को स्मज करके आंखों को एक खूबसूरत (Beautiful) स्मोकी लुक दे सकती हैं। इसके साथ ही इस बेहतरीन प्रोडक्ट का इस्तेमाल काजल, आईलाइनर तथा आईशैडो की तरह भी कर सकती हैं।

गुण :

  • यह एक वाटप्रूफ काजल है।
  • जब तक आप इस काजल को स्मजर की सहायता से नहीं फैलाते, तब तक यह काजल स्मज प्रूफ है।
  • यह आपको गहरा रंग दे सकता है।
  • इस पेंसिल काजल का टेक्सचर स्मूद और क्रीमी है।
  • इसका इस्तेमाल तीन तरह से हो सकता है।
  • इस काजल को एक बार लगाने के बाद बार-बार टचअप की आवश्यकता नहीं पड़ती है।

अवगुण :

  • इस काजल को बार-बार शार्प करने की आवश्यकता पड़ सकती है।
  • यह एक महंगा काजल है।

5) मेबेलिन न्यूयॉर्क कोलोस्सल काजल

बेस्ट काजल की अपनी लिस्ट में आप मेबेलिन न्यूयॉर्क कोलोस्सल काजल, सुपर ब्लैक का नाम भी शामिल कर सकते हैं। इस कंपनी के अनुसार, यह अन्य काजलों की तुलना में एक बार में दोगुना गहरा काला रंग दे सकता है। कंपनी का कहना यह भी है कि एक बार लगाने के बाद यह 36 घंटों तक टिका रह सकता है।

गुण :

  • स्मज प्रूफ और वाटर प्रूफ है।
  • एक स्ट्रोक में गहरा काला रंग दे सकता है।
  • स्मूद फिनिश दे सकता है।
  • आईलाइनर की तरह भी उपयोग किया जा सकता है।

अवगुण :

  • महंगा है।
  • आंखों पर ड्राई हो सकता है।

यहाँ भी देखे : ऑलिव ऑयल के फायदे

आंखों में काजल लगाने के फायदे : ( Benefits of kajal for Eyes )

  •  बहुत कम लोग ही यह जानते हैं कि काजल आंखों को धूप से बचाने में सहायक होता है। अक्सर ऐसा होता है कि आंखों में धूप पड़ने से आंखें लाल पड़ जाती हैं तथा पानी आने लगता है। लेकिन यदि आप आंखों में काजल लगाते रहते हैं तो इस परेशानी से काफी हद     तक सुरक्षित रह सकते हैं।
  •  कभी-कभी ऐसा होता है कि ज़्यादा सोने या रोने से आंखें सूज जाती हैं और छोटी दिखने लगती हैं। ऐसे में यदि आप चाहती हैं कि आपकी आंखें नॉर्मल दिखें तो आप काजल लगा सकती हैं।
  •  आंखों में काजल लगाने से आंखों की खूबसूरती दुगनी हो जाती है। काजल लगाने के बाद आंखों का शेप बहुत ही अच्छा हो जाता है और आंखें सुंदर व आकर्षक दिखने लगती हैं।

काजल लगाने का सही तरीका :

अब अंडर आई पर जरूरत के अनुसार प्राइमर और कंसीलर लगाएं और उसे लूज पाउडर की मदद से सेट कर लें। अब काजल को आंखों की निचली वाटरलाइन पर एक कोने से लेकर दूसरे कोने तक लगाएं। शुरू से अंत तक एक बार काजल लगाने के बाद, कुछ देर बाद दूसरी लेयर लगाएं। एक गहरा और डिफाइंड लुक देने के लिए आप ऊपरी वाटरलाइन पर भी काजल लगा सकती हैं। अंत में मस्कारा लगाने का सही तरीका अपनाकर लुक को पूरा करें।

For more details regarding tokajal in Hindi Click Here

काजल लगाने का सही तरीका ?

अब अंडर आई पर जरूरत के अनुसार प्राइमर और कंसीलर लगाएं और उसे लूज पाउडर की मदद से सेट कर लें। अब काजल को आंखों की निचली वाटरलाइन पर एक कोने से लेकर दूसरे कोने तक लगाएं।

काजल बनाने की विधि किया हे ?

सबसे पहले एक दीया लें और उसमें घी डालें।
अब इस दीये में बाती लगाकर उसे जला दें।
फिर फोर्क में बादाम लगाएं और उसे जलती हुई बाती पर रख दें।
बादाम के ऊपर एक चम्‍मच लगाएं जिससे कि बादाम ढक जाए।
बाती की आंच से बादाम को जलाएं।
जैसे-जैसे बादाम जलेगा, वैसे-वैसे चम्‍मच पर काजल बनने लगेगा।

काजल किया है ?

काजल एक श्याम पदार्थ है जो धुंए की कालिख और तेल तथा कुछ अन्य द्रव्य को मिलाकर बनाया जाता है। इसका पारम्परिक हिन्दू श्रृंगार में बहुत प्रयोग किया जाता है। इसमें कार्बन की मात्रा अधिक रहती है। परफेक्ट काजल कैसे लगाएं और इसे फैलने से कैसे बचाएं, इसे लेकर हम बता रही हैं कुछ छोटे-छोटे टिप्स। यकीन मानिए .

बेस्ट काजल खरीदने का सही तरीका किया हे ?

काजल हमेशा स्मज प्रूफ ही खरीदें। ऐसा काजल पूरा दिन आपकी आंखों (Eyes) में टिका रहेगा।
अगर आपकी आईलिड्स ऑयली हैं तो ऐसे में आप ऑयल-फ्री Kajal का इस्तेमाल कर सकती हैं।
सभी प्रकार की आंखों के लिए आप एक हर्बल काजल ले सकती हैं।
इस काजल में बहुत ही कम मात्रा में केमिकल को मिलाया जाता है

आयुर्वेदिक काजल बनाने की विधि किया हे ?

मौजूदा समय में बाजार में आपको कई ब्रांड्स का रेडीमेट काजल बड़ी आसानी से मिल जाता है। लेकिन इन सभी में केमिकल मिला होता है इसलिए इनका लम्बे समय तक उपयोग नुकसानदायक रहता है। इस की जगह आप होममेड या आयुर्वेदिक काजल का प्रयोग कर सकते हैं आयुर्वेदिक काजल बनाने में उपयोग की जाने वाली अधिकतर सामग्री आपको अपने घर पर ही बड़ी आसानी से उपलब्ध हो जाती है।

बादाम से काजल कैसे बनाएं ?

इस विधि से काजल बनाने के लिए सबसे पहले एक दो कप या गिलास लें और उनके बीच में एक दिया रखें। अब इस दिए में तेल डालें और जला लें। इसके बाद एक प्लेट पर एक या दो बादाम रख कर इसे कप के सहारे दिए की लौ के ऊपर रख दें और बादाम को जलने दें।