Benefits of Elaichi ,Is Elaichi Good for Health , ( इलायची खाने के फायदे )

0
558
Benefits of elaichi

Elaichi:- लजीज बिरियानी हो गया फिर खीर , इलायची के छोटे-छोटे दाने स्वाद बढ़ाने का काम करते हैं . वही चाय में सुगंध के लिए इसे उपयोग में लिया जाता है आपको जानकर हैरानी होगी कि अपनी खास महक और स्वाद के साथ ही इलायची के फायदे भी गई है| वजह है इलायची के औषधीय गुण | इसके इन्हीं गुणों के कारण इलायची को कई शारीरिक समस्याओं में राहत पाने के लिए भी इस्तेमाल में लाया जाता है। (Elaichi) हालांकि, आपको ध्यान रखना होगा कि लेख में बताई जाने वाली समस्याओं में इलायची के लाभ कुछ हद तक मिल सकते हैं, लेकिन यह उनका उपचार नहीं है।

Elaichi

Table of Contents

बड़ी इलायची के फल, सुगंध और काले रंग के बीजों से भला कौन अपरिचित हो सकता है। इसका प्रयोग मसालों से लेकर मिठाइयों तक में किया जाता है। इसके बीजों का प्रयोग मसालों के रूप में किया जाता है। आमतौर पर लोग केवल इतना ही जानते हैं कि बड़ी इलायची का इस्तेमाल मसाले में होता है और बड़ी इलायची का सेवन व्यंजन को स्वादिष्ट बनाता है, लेकिन सच यह है कि बड़ी इलायची का औषधीय प्रयोग भी किया जाता है।

Benefits of Elaichi

इसे काली इलायची (Black Elaichi) के नाम से भी जाना जाता है।आुयर्वेद के अनुसार, बड़ी इलायची पित्त शांत करने वाली, नींद लाने वाली, भोजन में रूचि पैदा करने काम करती है। यह हृदय एवं लीवर को स्वस्थ बनाती है। ( Elaichi) बड़ी इलायची भूख बढ़ाती है, भोजन को पचाती है, मुँह के बदबू को दूर करती है। यह पेट की गैस को खत्म करती है, उल्टी बंद करती है, घावों को भरती है। इसके प्रयोग से पेशाब खुल कर आता है, बुखार उतर जाता है|

बड़ी इलायची क्या है :

इसकी एक प्रजाति मोरंग इलायची भी होती है। आयुर्वेद के अनुसार, बड़ी इलायची की तासीर यानी उसका वीर्य उष्ण यानी गरम होता है। बड़ी इलायची की मुख्य प्रजाति के अतिरिक्त एक और प्रजाति पाई जाती है जिसका प्रयोग चिकित्सा के लिए किया जाता है .

1) Amomum subulatum (बड़ी इलायची)

2) Amomum aromaticum Roxb. (एलाकर्पूर)

इलायची के प्रकार :

1) हरी इलायची

इलायची भी कहा जाता है सरेआम किस्म है यह इलायची के नाम से भी एक लिखती है भारत में अन्य देशों में निर्यात किया जाता है . इसका वैज्ञानिक नाम एलेट्टेरिया कार्डामोमम है।

A) इसका उपयोग मीठे और नमकीन , दोनों प्रकार के व्यंजनों का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है .

B) इसका इस्तेमाल मसालेदार करी और दूध आधारित पकवानो में भी क्या जाता है .

2) काली इलायची

यह इलायची मूल रूप से पूर्वी हिमालय क्षेत्र से संबंध रखती है। इसकी खेती ज्यादातर सिक्किम, पूर्वी नेपाल और भारत के पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में की जाती है। यह रंग में भूरी होती है और आकार में थोड़ा लंबी होती है। ( Elaichi) इसे बड़ी इलायची के साथ भूरी और लाल इलायची के नाम से भी पुकारा जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम एमोमम सुबुलाटम है।

A) इसका इस्तेमाल बिरयानी जैसे व्यंजनों में किया जाता है .

B) यह गरम मसालों का महत्वपूर्ण हिस्सा है .

C) गहरे भूरे रंग के इसके बीज अपने औषधि गुणों के लिए भी जान जाते हैं

Benefits of elaichi

इलायची के फायदे

  • पाचन स्वास्थ्य को सुधारे
  • हृदय स्वास्थ्य के लिए लाभदायक
  • एंग्जायटी में असरदार
  • डायबिटीज को करे नियंत्रित
  • मौखिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद
  • ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करे
  • हिचकी को रोकने में मददगार
  • भूख बढ़ाने में सहायक

Side Effects of Elaichi

  • डायरिया
  • त्वचा में जलन
  • जीभ में सूजन
  • कब्ज

इलायची के फायदे :

1) पाचन तंत्र के लिए (benefits of Elaichi for Digestive System)

अव्यवस्थित पाचनकी स्थिति में इलायची के इलायची के फायदे कारगर साबित हो सकते हैं . इलायची के औषधीय गुणों से संबंधित दो अलग-अलग शोध से इस बात की पुष्टि की गई है । की एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि छोटी इलायची के गुण में एंटीइन्फ्लामेट्री (सूजन कम करने वाला) प्रभाव शामिल होता है, जो पाचन से संबंधित विकारों में राहत पहुंचाने का काम करता है। (Elaichi) वहीं, बड़ी इलायची में एंटी-अल्सरोजेनिक (अल्सर पैदा करने वाले जोखिमों को कम करने वाला) गुण पाया जाता है। बड़ी इलायची का यह गुण गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल डिसऑर्डर (जैसे :- कब्ज, गैस, डायरिया और पेट में दर्द) में राहत पहुंचाता है|

2) हृदय के स्वास्थ्य के लिए (benefits of Elaichi for heart )

बड़ी इलायची एंटीऑक्सीडेंट गुणों से समृद्ध होती है। इसका यह गुण हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है। वहीं, यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम कर हृदय को फायदा भी पहुंचाता है। साथ ही यह इस्केमिक हृदय रोग (रक्त प्रवाह में कमी के कारण होने वाली बीमारी) से पीड़ित रोगियों के लिए भी लाभकारी साबित होती है |( Elaichi) एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि बड़ी इलायची हरी इलायची की तुलना में ज्यादा कारगर साबित होती है, क्योंकि यह एंटीहाइपरटेन्सिव (ब्लड प्रेशर कम करने वाला) गुण के कारण मेटाबॉलिक सिंड्रोम (कुछ जोखिम कारकों का समूह जो हृदय रोग के साथ अन्य कई समस्याओं का कारण बनते हैं) पर ज्यादा प्रभावी रूप से काम कर करती है .

3) एंग्जायटी के लिए ( benefits of Elaichi for Anxiety )

एंग्जायटी की समस्या से राहत पाने के लिए भी छोटी इलायची के फायदे कारगर साबित होता हैं। ( Elaichi) छोटी इलायची से संबंधित एक शोध में पाया गया कि यह चिंता और तनाव को कम करने में सहायक होती है। हालांकि, इलायची के लाभ किस प्रकार काम करते हैं, इस पर और शोध के लिए भी कहा गया है।

4) डायबिटीज के लिए ( benefits of Elaichi for Diabetes )

छोटी इलायची के फायदे में डायबिटीज नियंत्रण भी शामिल है। यह बात बीएमसी कॉम्प्लिमेंट्री मेडिसिन एंड थेरेपीज द्वारा किए गए एक शोध से प्रमाणित होती है। शोध में माना गया कि हरी इलायची के गुण में एंटीऑक्सीडेंट (मुक्त कणों के प्रभाव को नष्ट करने वाला) प्रभाव पाया जाता है।( Elaichi) यह गुण इन्सुलिन की सक्रियता को बढ़ाने में मदद कर सकता है, जो बढ़े हुए ब्लड शुगर को कम करने में सहायक होता है। इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि टाइप-2 डायबिटीज से पीड़ित व्यक्ति को इलायची खाने से फायदे हासिल होते हैं।

5) ब्लड प्रेशर के लिए ( benefits of Elaichi for blood pressure )

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या में भी इलायची खाने से फायदे हासिल होते हैं। इस बात को मेडिकल कॉलेज के रिसर्च विभाग ने अपने शोध में भी स्वीकार किया है। शोध में माना गया कि छोटी इलायची सिस्टोलिक (हृदय संकुचन) और डायस्टोलिक (हृदय विराम) दोनों ही अवस्थाओं में बढ़े हुए बल्ड प्रेशर को कम करती है।( Elaichi) इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि बढ़े हुए ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में छोटी इलायची के फायदे सहायक साबित होते हैं।

6) हिचकी को रोकने के लिए ( benefits of Elaichi for hiccup )

हिचकी की समस्या में भी इलायची पाउडर के फायदे हासिल किए जाते हैं। दरअसल, छोटी इलायची से संबंधित एक शोध के मुताबिक अन्य स्वास्थ्य समस्याओं के साथ ही यह हिचकी को रोकने में भी मददगार साबित होती है। बता दें छोटी इलायची को आयुर्वेद में एला के नाम से पुकारा जाता है। ( Elaichi)ध्यान रहे, हिचकी कोई बीमारी नहीं हैं, लेकिन कभी-कभी इसकी निरंतरता लोगों में उलझन पैदा करती है।  

7) भूख बढ़ाने के लिए ( benefits of Elaichi for Increase appetite )

हरी इलायची के फायदे भूख बढ़ाने में भी सहायक हैं। लेख में हम आपको पहले भी बता चुके हैं कि स्टोमैकिक गुण के कारण इलायची में पाचन क्रिया को सुधारने के साथ ही भूख बढ़ाने का गुण भी मौजूद होता । ( Elaichi) ऐसे में इलायची के गुण उन लोगों के लिए उपयोगी साबित होते हैं, जो अक्सर भूख न लगने की शिकायत करते रहते हैं। बता दें हरी इलायची के साथ ही बड़ी इलायची के फायदे भी प्रभावी असर प्रदर्शित करते हैं।

8) कैंसर के लिए ( benefits of Elaichi for Cancer )

इलायची के औषधीय गुण के कारण इसे कैंसर से कुछ हद तक बचाव के लिए घरेलू तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। सऊदी अरब जी हेल यूनिवर्सिटी द्वारा किए गए एक शोध से इस बात की पुष्टि होती है। दरअसल, स्किन कैंसर को लेकर चूहों पर किए गए इस शोध में पाया गया कि हरी इलायची में कीमो प्रिवेंटिव (कैंसर से बचाव करने वाला) गुण मौजूद होता है। ( Elaichi) इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि कैंसर के जोखिम को कुछ हद तक कम करने में हरी इलायची के फायदे सहायक साबित होते हैं। फिर भी ध्यान रखना होगा कि कैंसर एक जानलेवा बीमारी हैं और इसके इलाज के लिए डॉक्टरी उपचार सबसे जरूरी है।

9) याददाश्त के लिए ( benefits of Elaichi for memory )

हरी के साथ बड़ी इलायची के फायदे भी याददाश्त बढ़ाने में मददगार साबित होते हैं। दरअसल, एक अध्ययन के अनुसार इलायची के औषधीय गुण सीखने और याददाश्त को बढ़ाने में कारगर साबित होता है। ( Elaichi) इसके लिए चाय में या अन्य खाद्य सामग्री में इसका इस्तेमाल किया जाता है। माना जाता है चुटकी भर इलायची बेहतर परिणाम देने की क्षमता रखती है। हालांकि, यह किस प्रकार यह काम करती है, इसे लेकर अभी और शोध किए जाने की आवश्यकता है।

10) बालों के लिए ( benefits of Elaichi for Hair )

बालों के लिए इलायची की उपयोगिता को लेकर थोड़ी संशय की स्थिति है। मुमकिन है कि यह फायदों के विकास में मदद करती है . और नहीं भी। दरअसल, चूहों पर किए गए एक शोध में जिक्र मिलता है|( Elaichi) कि यह बालों के विकास को बाधित करने का काम करती है मुमकिन है कि यह भाइयों के विकास में। वहीं, स्तन कैंसर से संबंधित एक शोध में इलायची को शरीर, त्वचा और बालों के लिए फायदेमंद बताया गया है .

इलायची का उपयोग :

दिए गए पॉइंट के माध्यम से इलायची का उपयोग आसानी से समझ सकते हैं |

1) भारत में इलायची मसाले का एक महत्वपूर्ण तत्व है | इसका इस्तेमाल शाकाहारी और मांसाहारी दोनों प्रकार के भोजन में किया जाता है।

2) इलायची को चाय में भी इस्तेमाल किया जाता है |

3) साबुत  हरी इलायची का इस्तेमाल पुलाव व बिरयानी जैसे व्यंजनों में किया जाता है। ( Elaichi) इलायची के प्रयोग से इन व्यंजनों की खुशबू बढ़ जाती है।

4) मसालेदार व्यंजनों के अलावा, इलायची का उपयोग मिठाइयों में भी किया जाता है, जैसे खीर, गुलाब जामुन, गजक व हलवा आदि। ग्राउंड इलायची का उपयोग सूप और चावल के व्यंजन में भी किया जाता है।

5) चिकन को शहद, काली मिर्च और इलायची के साथ मेरिनेट किया जाता है।

6) फ्रूट सलाद में आप शहद के साथ इलायची का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

इलायची को इस तरह से लंबे समय तक सुरक्षित रखें :

1) इलायची को छिलके समेत किसी एयर टाइट डिब्बे में बंद करके रख सकते है।

2) आप चाहें तो जिपर वाले पॉली बैग को इस्तेमाल कर इलायची को सुरक्षित रख सकते हैं।

3) आप चाहें तो इलायची दानों का पाउडर बनाकर उसे एयर टाइट बैग या डिब्बे में रख सकते हैं .

Side effects of Elaichi in Hindi

डायरिया
त्वचा में जलन
जीभ में सूजन
कब्ज

For more details regarding the Elaichi  in Hindi:- click here

इलाइची क्या है?

लजीज बिरियानी हो गया फिर खीर , इलायची के छोटे-छोटे दाने स्वाद बढ़ाने का काम करते हैं . वही चाय में सुगंध के लिए इसे उपयोग में लिया जाता है आपको जानकर हैरानी होगी कि अपनी खास महक और स्वाद के साथ ही इलायची के फायदे भी गई है| वजह है इलायची के औषधीय गुण |( Elaichi) इसके इन्हीं गुणों के कारण इलायची को कई शारीरिक समस्याओं में राहत पाने के लिए भी इस्तेमाल में लाया जाता है। हालांकि, आपको ध्यान रखना होगा कि लेख में बताई जाने वाली समस्याओं में इलायची के लाभ कुछ हद तक मिल सकते हैं, लेकिन यह उनका उपचार नहीं है।

Benefits of Elaichi?

इसे काली इलायची (Black Elaichi) के नाम से भी जाना जाता है।आुयर्वेद के अनुसार, बड़ी इलायची पित्त शांत करने वाली, नींद लाने वाली, भोजन में रूचि पैदा करने काम करती है। यह हृदय एवं लीवर को स्वस्थ बनाती है। बड़ी इलायची भूख बढ़ाती है, भोजन को पचाती है, मुँह के बदबू को दूर करती है।( Elaichi) यह पेट की गैस को खत्म करती है, उल्टी बंद करती है, घावों को भरती है। इसके प्रयोग से पेशाब खुल कर आता है, बुखार उतर जाता है|

पाचन तंत्र के लिए इलायची कैसे उपयोगी है?

अव्यवस्थित पाचनकी स्थिति में इलायची के इलायची के फायदे कारगर साबित हो सकते हैं . इलायची के औषधीय गुणों से संबंधित दो अलग-अलग शोध से इस बात की पुष्टि की गई है । की एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि छोटी इलायची के गुण में एंटीइन्फ्लामेट्री (सूजन कम करने वाला) प्रभाव शामिल होता है( Elaichi), जो पाचन से संबंधित विकारों में राहत पहुंचाने का काम करता है। वहीं, बड़ी इलायची में एंटी-अल्सरोजेनिक (अल्सर पैदा करने वाले जोखिमों को कम करने वाला) गुण पाया जाता है। बड़ी इलायची का यह गुण गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल डिसऑर्डर (जैसे:- कब्ज, गैस, डायरिया और पेट में दर्द) में राहत पहुंचाता है .

ब्लड प्रेशर के लिए इलायची कैसे उपयोग है?

हाई ब्लड प्रेशर की समस्या में भी इलायची खाने से फायदे हासिल होते हैं। इस बात को मेडिकल कॉलेज के रिसर्च विभाग ने अपने शोध में भी स्वीकार किया है। शोध में माना गया कि छोटी इलायची सिस्टोलिक (हृदय संकुचन) और डायस्टोलिक (हृदय विराम) दोनों ही अवस्थाओं में बढ़े हुए बल्ड प्रेशर को कम करती है। इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि बढ़े हुए ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में छोटी इलायची के फायदे सहायक साबित होते हैं।

याददाश्त के लिए इलायची का उपयोग कैसे करें?

हरी के साथ बड़ी इलायची के फायदे भी याददाश्त बढ़ाने में मददगार साबित होते हैं। दरअसल, एक अध्ययन के अनुसार इलायची के औषधीय गुण सीखने और याददाश्त को बढ़ाने में कारगर साबित होता है। इसके लिए चाय में या अन्य खाद्य सामग्री में इसका इस्तेमाल किया जाता है। माना जाता है चुटकी भर इलायची बेहतर परिणाम देने की क्षमता रखती है। हालांकि, यह किस प्रकार यह काम करती है, इसे लेकर अभी और शोध किए जाने की आवश्यकता है।

काली इलायची का उपयोग बताईये?

यह इलायची मूल रूप से पूर्वी हिमालय क्षेत्र से संबंध रखती है। इसकी खेती ज्यादातर सिक्किम, पूर्वी नेपाल और भारत के पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों में की जाती है। यह रंग में भूरी होती है और आकार में थोड़ा लंबी होती है। इसे बड़ी इलायची के साथ भूरी और लाल इलायची के नाम से भी पुकारा जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम एमोमम सुबुलाटम है।

इलायची से होने वाले Side Effects बताईये?

डायरिया
त्वचा में जलन
जीभ में सूजन
कब्ज