Oats in Hindi: Oats Nutrition, जई का दलिया

0
694
Oats in Hindi

Oats in Hindi:- आज के दौर में ओट्स को काफी इस्तेमाल किया जाता है। आजकल डॉक्टर  और योगा टीचर लोगों को ओट्स खाने की सलाह देते हैं। Oats जई का दलिया भी कहा जाता है। यह प्रोटीन से भरपूर होता है ।और उसमें ऊर्जा के प्रमुख घटक पाए जाते हैं। इसीलिए कई लोग इसे नाश्ते में भी लेते हैं। सुबह एक प्लेट ओट्स का सेवन करने से कई लगों से छुटकारा दिलाने के अलावा हमारे शरीर को पूरा दिन ऊर्जावान भी बनाता है। आज हम आपके साथ हमारे इस लेख के माध्यम से ओट्स के क्या-क्या फायदे हैं? तथा नुकसान, ओट्स होता क्या है? आदि पर चर्चा परिचर्चा करेंगे।

Oats in Hindi

 ओट्स  क्या हैं? 

ओट्स को हिंदी में जई का दलिया कहा जाता है। ओट्स की खेती सबसे पहले स्काउटलैंड में की गई थी और यह वहां के प्रमुख आहार में से एक है। ओटमील का सेवन पहले केवल पशुओं के द्वारा किया जाता था। लेकिन इसके पौष्टिक गुणों को मध्य नजर रखते हुए अब ओट्स का सेवन मनुष्य के द्वारा भी किया जाता है।

इसका वैज्ञानिक नाम एवेना सटिवा (Avena Sativa) हैं। ओट्स Poaceae परिवार का सदस्य है। यह दिखने में जौ की तरह दिखाई देता है । भारत में ओट्स की दो प्रजातियां पाई जाती है: एवेना सटिवा और ऐवना स्टरिलिस ।भारत में ओट्स सबसे ज्यादा हरियाणा पंजाब उत्तर प्रदेश पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में उगाए जाते हैं इसके अलावा कनाडा, पोलैंड, चीन रूस, ऑस्ट्रेलिया, यूएसए, फ्रांस में भी ओट्स उगाए जाते हैं।

Oats Nutrition

ओट्स मैं कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जैसे ज़िंक, पोटेशियम, आयरन, कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट, सोडियम, फाइबर, प्रोटीन, राइबोफ्लेविन, विटामिन बी 6, विटामिन बी 12, थाइमिन, नियासिन, फोलेट, फॉस्फोरस, फैटी एसिड टोटल सैचुरेटेड, फैटी एसिड टोटल अनसैचुरेटेड, फैटी एसिड टोटल पोली अन सैचुरेटेड, फैटी एसिड टोटल मोनोसेचुरेटेड आदि। इसके अलावा ओट्स में एंटी ऑक्सीडेंट एंटी फंगल एंटी बैक्टीरियल गुण भी उपलब्ध होते हैं। और यह Gluten-free भी होता है।ओट्स चार प्रकार की होती है: रोल्ड ओट्स, इंस्टेंट ओट्स, स्टील कट ओट्स, तथा ग्रोट्स ओट्स

ओट्स के फायदे । Oats Benefits in Hindi

रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए (Oats in Hindi To control blood pressure)

एक सामान्य व्यक्ति का रक्तचाप 140 -159 / 90- 99 होता है, जबकि युवाओं का सामान्य रक्तचाप 120 / 80 होता है ।हाई ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन की बीमारी आजकल बढ़ती जा रही है। इसी कारण हार्ड अटैक भी आ सकता है और जान भी जा सकती है ।ओट्स का सेवन करने से आप रक्तचाप को नियंत्रित कर सकते हैं। ओट्स में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जैसे पोटेशियम विटामिन सी घुलनशील फाइबर एंटीऑक्सीडेंट आदि जो हमारे शरीर में रक्तचाप को नियंत्रित करके रक्त प्रवाह को कम करते हैं।

कैंसर के लिए (Oats in Hindi For cancer)

ओट्स में दूसरे सब्जियां तथा राज्यों के समान अधिक मात्रा में फाइटोकेमिकल्स उपलब्ध होते हैं। फाइटोकेमिकल्स कैंसर को रोकने में सहायता करते हैं ।विशेष रुप से स्तन कैंसर को रोकने में सहायता करते हैं। Oats महिलाओं में एस्ट्रोजन के परिसंचरण को नियंत्रित करने में सहायक होते हैं जिसस स्तन कैंसर का खतरा कम किया जा सकता है।

यह भी पढ़िए: 5 Best Body Washes For Every Skin Type

मधुमेह के लिए (Oats in Hindi For diabetes)

मधुमेह के रोग से छुटकारा पाने के लिए ओट्स का सेवन काफी गुणकारी होता है। हाय ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थों को खाने से हमारे शरीर में ग्लूकोज का स्तर बढ़ता है। और ओट्स में ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है। जो हमारे शरीर में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित रखता है। और यह हमारे शरीर में रक्तचाप को नियंत्रित करने का कार्य भी करता है।

वजन कम करने के लिए (Oats in Hindi To lose weight)

ओट्स में कई पोषक तत्व उपलब्ध होते हैं जो हमारे शरीर में धीमी पाचन और लंबे समय तक पोषक तत्वों की अवशोषण करने में सहायक होते हैं और इससे लंबे समय तक भूख नहीं लगती है ।इसीलिए वजन कम करने के लिए ओट्स काफी गुणकारी होते हैं।

पाचन के लिए  (Oats in Hindi For digestion)

ओट्स कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जो हमारे शरीर में पाचन प्रणाली को स्वस्थ बनाती है। और कब्ज की समस्या को दूर करते हैं इसके अतिरिक्त यह गास्ट्रोसोफेगल रिफ्लक्स रोग को भी ठीक करता है।

मुहांसों के लिए (Oats in Hindi For acne)

मुहांसों को दूर करने के लिए ओटमील उबालकर तैयार करें और उसे 15 मिनट के लिए ठंडा होने के लिए रख दी प्रभावित क्षेत्र पर लगाने 10 मिनट तक लगाएं और धो ले। यह त्वचा से तेल बाहर निकाल देता है । और बैक्टीरिया को भी खत्म कर देता है तथा मृत कोशिकाओं को भी बाहर निकालने में सहायक होता है।

ड्राई स्किन के लिए (Oats in Hindi For dry skin)

ड्राई स्किन को ठीक करने के लिए ओट्स में पॉलिसैचेराइड जो पानी मिलने पर त्वचा पर चिकनाई पैदा करते हैं ।ओट्स खुजली चकत्ते सूजन तथा ड्राई स्किन को ठीक करने के लिए काफी गुणकारी होता है ।रूखी त्वचा से छुटकारा पाने के लिए एक केले को बारीक पीसकर ओटमील में मिला ले उसमें कुछ दूध मिलाकर चेहरे पर लगाएं।

बालों के लिए (Oats in Hindi For hair)

विटामिन तथा खनिज पोषण की कमी से बालों का के झड़ने की समस्या हो सकती है इस समस्या से निजात पाने के लिए ओट्स का सेवन करें ।ओट्स में जस्ता लोहा मैग्नीशियम तथा पोटेशियम उपलब्ध होते हैं ,जो बालों की ग्रोथ को बढ़ाने में सहायता करते हैं।

For more information regarding the Oats in Hindi: Click Here

 ओट्स  क्या हैं? 

ओट्स को हिंदी में जई का दलिया कहा जाता है। ओट्स की खेती सबसे पहले स्काउटलैंड में की गई थी और यह वहां के प्रमुख आहार में से एक है। ओटमील का सेवन पहले केवल पशुओं के द्वारा किया जाता था। लेकिन इसके पौष्टिक गुणों को मध्य नजर रखते हुए अब ओट्स का सेवन मनुष्य के द्वारा भी किया जाता है।
इसका वैज्ञानिक नाम एवेना सटिवा (Avena Sativa) हैं। ओट्स Poaceae परिवार का सदस्य है। यह दिखने में जौ की तरह दिखाई देता है । भारत में ओट्स की दो प्रजातियां पाई जाती है: एवेना सटिवा और ऐवना स्टरिलिस ।भारत में ओट्स सबसे ज्यादा हरियाणा पंजाब उत्तर प्रदेश पश्चिम बंगाल और उड़ीसा में उगाए जाते हैं इसके अलावा कनाडा, पोलैंड, चीन रूस, ऑस्ट्रेलिया, यूएसए, फ्रांस में भी ओट्स उगाए जाते हैं।

मधुमेह के लिए कैसे उपयोगी है बताईये?

मधुमेह के रोग से छुटकारा पाने के लिए ओट्स का सेवन काफी गुणकारी होता है। हाय ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थों को खाने से हमारे शरीर में ग्लूकोज का स्तर बढ़ता है। और ओट्स में ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है। जो हमारे शरीर में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित रखता है। और यह हमारे शरीर में रक्तचाप को नियंत्रित करने का कार्य भी करता है।

ड्राई स्किन के लिए

मधुमेह के रोग से छुटकारा पाने के लिए ओट्स का सेवन काफी गुणकारी होता है। हाय ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थों को खाने से हमारे शरीर में ग्लूकोज का स्तर बढ़ता है। और ओट्स में ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है। जो हमारे शरीर में शर्करा की मात्रा को नियंत्रित रखता है। और यह हमारे शरीर में रक्तचाप को नियंत्रित करने का कार्य भी करता है।