Vinegar Side Effects in Hindi ( सिरके के फायदे और नुकसान )

0
283

Vinegar Side Effects in Hindi:- सिरका सेहत से जुड़े अपने फायदों के लिए खूब जाना जाता है. हो सकता है कि आप भी यह सोचते हों कि आखिर सेब का सिरका होता क्या है और सेब का सिरका कैसे बनता है. तो हम आपको बता दें कि यह भी एक तरह का सिरका ही है जिसमें साइडर मुख्य हिस्सा होता है. यह सेब को निचोड़ कर उसके लिक्विड से बनाया जाता है. तो फर्मेंटेशन के बाद जो सिरका बचता है उसे ही सेब का सिरका या ए.सी.वी कहा जाता है. इतना ही नहीं ऑर्गेनिक और पैश्चराइज्ड रूप में इसे एप्पल साइडर विनेगर विद मदर कहा जाता है. एप्पल साइडर विनेगर एक लोकप्रिय घरेलू उपाय है।

Vinegar Side Effects in Hindi

Table of Contents

सिरका सेहत से जुड़े अपने फायदों के लिए खूब जाना जाता है. हो सकता है कि आप भी यह सोचते हों कि आखिर सेब का सिरका होता क्या है और सेब का सिरका कैसे बनता है. तो हम आपको बता दें कि यह भी एक तरह का सिरका ही है जिसमें साइडर मुख्य हिस्सा होता है. यह सेब को निचोड़ कर उसके लिक्विड से बनाया जाता है. तो फर्मेंटेशन के बाद जो सिरका बचता है उसे ही सेब का सिरका या ए.सी.वी कहा जाता है. इतना ही नहीं ऑर्गेनिक और पैश्चराइज्ड रूप में इसे एप्पल साइडर विनेगर विद मदर कहा जाता है. एप्पल साइडर विनेगर एक लोकप्रिय घरेलू उपाय है।

सदियों से खाना पकाने और चिकित्सा में इसका इस्तेमाल किया जाता रहा है। इसमें स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाने वाले कई चमत्कारिक गुण हैं। जिनमें एंटीमाइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण भी शामिल हैं। इतना ही नहीं वजन कम करने, कोलेस्ट्रॉल कम करने , रक्त शकर्रा के स्तर को कम करने और डायबिटीज के लक्षणों में सुधार करने के लिए इसे पीना बहुत फायदेमंद है। एप्पल साइडर विनेगर लैस कैलेारी के साथ बेस्ट डिटॉक्सीफाइंग ड्रिंक है। आपकी रसोई में कई ऐसे खाद्य पदार्थ मौजूद होते हैं, जिन्हें औषधीय गुणों का भंडार माना जाता है। उन्हीं में से एक है, सिरका।

आमतौर पर सिरके का उपयोग स्वाद के लिए किया जाता है, लेकिन क्या आपको मालूम है कि स्वास्थ्य संबंधी आपकी कई समस्याओं का हल इसमें छिपा हुआ है। सिरके को बाल और त्वचा की देखभाल के साथ ही कई गंभीर बीमारियों जैसे:- हृदय रोग, मानसिक रोग और कैंसर के उपचार के लिए एक औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। इसे पीने से ब्लड शुगा को कम करने में मदद मिलती है, जिससे मेटाबॉलिज्म में सुधार और फैट बर्निंग प्रोसेस में तेजी आती है। सेब के सिरका के नियमित सेवन से ह्रदय स्वास्थ्य, सहनशक्ति अच्छी हो जाती है।

कुछ अध्ययनों से अनुसार एप्पल साइडर विनेगर शरीर में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम कर वजन को कंट्रोल करते हैं। एप्पल साइडर विनेगर लैस कैलेारी के साथ बेस्ट डिटॉक्सीफाइंग ड्रिंक है। इसे पीने से ब्लड शुगा को कम करने में मदद मिलती है, जिससे मेटाबॉलिज्म में सुधार और फैट बर्निंग प्रोसेस में तेजी आती है। सेब के सिरका के नियमित सेवन से ह्रदय स्वास्थ्य, सहनशक्ति अच्छी हो जाती है। कुछ अध्ययनों से अनुसार एप्पल साइडर विनेगर शरीर में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम कर वजन को कंट्रोल करते हैं। इन दिनों सेब के सिरके के सेवन का ट्रेंड चल रहा है।

सेब का सिरका या एप्पल साइडर विनेगर, हेल्थ को मिलने वाले फायदों के चलते, लोगों के बीच खासा पॉपुलर हो रहा है। यदि इन्टरनेट पर एप्पल साइडर विनेगर खोजने जायेंगे तो देखेंगे कि इसके फायदों से जुड़ी ढ़ेरों जानकारियां मौजूद हैं। यही नहीं, कई एक्सपर्ट्स भी इसके सेवन की सलाह देते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि एप्पल साइडर विनेगर के भी कई साइड इफेक्ट्स हैं। जी हां, एक्सपर्ट्स की मानें तो एप्पल साइडर विनेगर के सेवन में कुछ सावधानियां रखनी चाहिए। दादी के नुस्खे के इस लेख के माध्यम से हम सिरके के फायदे और इससे जुड़ी ऐसी ही कई रोचक जानकारियां आपको देंगे।

सेब का सिरका क्या है?

सेब का सिरका को एप्पल साइडर विनेगर या ए.सी.वी भी कहा जाता है. इसे सेब का रस निचोड़कर उसे फर्मेंट करने के बाद तैयार किया जाता है. आजकल बाज़ार में आपको अलग-अलग कंपनी के द्वारा बनाया गया सेब का सिरका आसानी से मिल जाएगा लेकिन पतंजलि सेब का सिरका को पतंजलि का बहुत ही अच्छा प्रोडक्ट माना जाता है.

Vinegar Side Effects in Hindi

विनेगर यानी सिरके के फायदे– Benefits of Vinegar in Hindi

का प्रमुख घटक एसिटिक एसिड होता है. एसिटिक एसिड एक प्रकार का तेज़ एसिड है, जो किसी भी प्रकार के खाद्य पदार्थ, जैसे- फल, शकरकंद, शराब इत्यादि के खमीरीकरण से बनता है. यह एसिटिक एसिड नामक बैक्टीरिया बनाता है. ये बैक्टीरिया हर जगह पाए जाते हैं और हर प्रकार के जीव-जंतुुओं से फैल जाते हैं. यहां तक कि ये हमारे शरीर में भी मौजूद होते हैं. महिलाओं के व़ेजाइना में भी ये बैक्टीरिया मौजूद होते हैं. यही वजह है कि वेज़ाइना के अंदर का फ्लूइड एसिटिक यानी खट्टा होता है. इतना ही नहीं, हम जो खाना खाते हैं, उसे गलाने के लिए हमारा शरीर एसिटिक एसिड बनाता है.

सेब का सिरका यूज करने सही तरीका

एप्पल साइडर विनेगर यूज करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप इसे अपने भोजन में डालकर यूज करें. आप इसे सलाद ड्रेसिंग में या फिर मेयोनीज में भी मिक्स कर सकते हैं. इसके अलावा आप चाहें तो 1 गिलास पानी में 1 से 2 चम्मच (5–10 mL) एप्पल साइडर विनेगर मिलाएं और पी लें दिनभर में कई बार या अधिक मात्रा में सेब का सिरका न पिएं. इसके अलावा खाना खाने के बाद या सोने से पहले भी एप्पल साइडर विनेगर न पीएं. आप चाहें तो खाना खाने से पहले या सुबह खाली पेट सेब का सिरका पी सकते हैं. एप्पल साइडर विनेगर को खाली पेट पीने के कई फायदे भी हैं.

सिरके के फायदे– Benefits of Vinegar in Hindi

1) कैंसर से करता है बचाव

सिरके का उपयोग कैंसर जैसी गंभीर समस्या में भी लाभकारी माना जाता है। दरअसल, इस संबंध में किए गए एक शोध में इस बात का जिक्र मिलता है कि एन-नाइट्रोसो-कंपाउंड मानव शरीर में ट्यूमर और कैंसर का कारण बनता है। वहीं, सिरके में मौजूद औषधीय गुण इस कंपाउंड के प्रभाव को कम करने में सहायक साबित होते हैं। इस कारण ऐसा कहा जा सकता है कि सिरके का उपयोग कैंसर के जोखिमों को भी कम करने में मददगार साबित हो सकता है।

2) कोलेस्ट्रॉल में फायदेमंद

इसकी जाँच हेतु चूहों को 19 दिनों के लिए सेब के सिरके का सेवन कराया गया था, जिसके कारण कुल कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड के स्तर में भारी कमी पाई गई। सिरका में मौजूद क्लोरोजेनिक एसिड नामक एक एंटीऑक्सिडेंट एलडीएल कोलेस्ट्रॉल पार्टिकल को ऑक्सीकरण से बचा सकता है, जिससे एलडीएल के स्तर और कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद मिलती है। जानवरों में, सेब का सिरका Hemoglobin A 1 सी (एचबीए 1 सी) को काफी कम कर देता है और साथ ही साथ कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन (एलडीएल) कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करता है और उच्च घनत्व वाले लिपोप्रोटीन (एचडीएल) कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है।

3) डायबिटीज में उपयोगी

सिरका मधुमेह रोगियों के लिए बहुत ही उपयोगी होता है। टाइप 2 Diabetes पर इसके प्रभाव देखने के लिए एक परीक्षण किया गया था। शोध से पता चला है कि मधुमेह के रोगियों में इंसुलिन पर इसका एक उत्तेजक प्रभाव था और इंसुलिन प्रतिरोधी लोगों के मामले में, इससे इंसुलिन संवेदनशीलता को बढ़ाने में मदद मिली। बिस्तर पर जाने से पहले 2 चम्मच सिरके के सेवन से टाइप 2 Diabetes के रोगियों की स्थिति में सुधार हो सकता है।

4) सिरके का प्रयोग रखे ह्रदय को स्वस्थ

एक अध्ययन के मुताबिक, तेल और सिरके से तैयार सलाद के सेवन (सप्ताह में पांच से छह दिन या उससे ज्यादा) से महिलाओं में हृदय रोग के जोखिम को कम किया जा सकता है। सिरका में मौजूद एसिटिक एसिड उच्च रक्तचाप को कम करने के लिए जाना जाता है। अध्ययनों में यह भी बताया गया है कि सिरके ने गैर-उच्च रक्तचाप वाले चूहों में रेनिन-एंजियोटेंसिन प्रणाली (हार्मोन सिस्टम) को बाधित किया था।

5) दाद की समस्या के लिए

सेब का सिरका शरीर पर होने वाले फंगल इन्फेक्शन से मुक्ति दिलाने में सहायक माना जाता है। दाद की समस्या भी एक प्रकार का फंगल इन्फेक्शन ही है। इसलिए, ऐसा कहना बिलकुल भी गलत नहीं होगा कि सेब का सिरका दाद पर भी असरदार प्रभाव डालता है।

प्पल साइडर विनेगर के साइड इफेक्ट्स

सेब का सिरका भी ऐसिडिक होता है इसलिए इसका ज्यादा सेवन करने से दांतों का इनैमल खराब हो सकता है जिसकी वजह से दांतों में सड़न की समस्या होने लगती है. नियमित रूप से जो लोग सेब का सिरका पीते हैं उनमें यह समस्या ज्यादा होती है. -कई रिपोर्ट्स की मानें तो सिरका की वजह से शरीर में पोटैशियम का लेवल बेहद कम हो जाता है और हाइपोकैलेमिया की बीमारी हो जाती है. इसमें मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं और पैरालिसिस का खतरा रहता है. -अगर किसी को डायबिटीज की बीमारी हो तो उसे डॉक्टर से पूछे बिना एप्पल साइडर विनेगर यूज नहीं करना चाहिए क्योंकि कई रिसर्च में यह बात सामने आयी है कि यह शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कई तरीके से प्रभावित करता है.

सिरके का उपयोग – How to Use Vinegar in Hindi

सामान्य तौर पर इसे खाने के साथ इस्तेमाल किया जा सकता है। वहीं, बालों से संबंधित समस्या के निवारण के लिए एक कप पानी में सिरके की एक चम्मच मात्रा का उपयोग कर उन्हें धोने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। वहीं, त्वचा संबंधी समस्या के लिए एक बाल्टी पानी में एक कप सिरके का इस्तेमाल कर नहाया जा सकता है। ध्यान रहे कि ऐसा करने के बाद साफ पानी से जरूर नहा लें।

सिरके के नुकसान – Side Effects of Vinegar in Hindi

बाहरी उपयोग के लिए सिरके को पानी में मिलाकर ही लगाना चाहिए। इसमें अम्लीयता ज्यादा होने के कारण इसका सीधा उपयोग त्वचा पर जलन पैदा कर सकता है। सिरके का अधिक उपयोग पेट में जलन की समस्या पैदा कर सकता है । गर्भावस्था के दौरान सिरके का उपयोग करने से पहले चिकित्सक की सलाह जरूर लें। त्वचा पर सिरके के इस्तेमाल के बाद परफ्यूम या डियोड्रेंट का प्रयोग नहीं करना चाहिए, वरना एलर्जी की समस्या हो सकती है।

TOP 5 BENEFITS OF SHILAJIT IN HINDI ( शिलाजीत के फायदे हिंदी में )

गन्ने के सिरके के क्या फायदे हैं?

इसमें गन्ने से बना सिरका और गुड़ अहम भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने कहा कि गन्ने का सिरका रक्त वसा को नियंत्रित करता है। वहीं, वजन घटाने (weight loss) और बढ़े हुए लिवर को भी घटाने में काफी कारगर है। मधुमेह के रोगियों के लिए स्टीविया की पत्तियों का इस्तेमाल कर प्राकृतिक कैलोरी मुक्त उत्पाद भी बनाए जाएं।

सबसे अच्छा सिरका कौन सा होता है?

यूं तो सिरका कई क़िस्म का होता है. लेकिन, सेब का सिरका सबसे ज़्यादा फ़ायदेमंद बताया जाता है.

सफेद सिरका क्या होता है?

सफेद सिरका एक बेहतरीन एंटीसेप्टिकक है और यह एक्ने दूर करने में बहुत कारगर होता है. यह त्वचा के पीएच बैलेंस को भी सुधारता है. … कॉटन से सिरके व पानी का मिक्सचर एक्ने वाली जगह पर लगाएं और 5 मिनट बाद साफ पानी से धो दें

जामुन का सिरका पीने से क्या फायदा होता है?

जामुन का सिरका पीने से खांसी तुरंत ठीक हो जाती है और कफ की समस्या से भी राहत मिल जाती है. खांसी के अलावा गला खराब होने पर भी जामुन का सिरका पीया जाए तो गला एकदम सही हो जाती है. – उल्टी आने पर आप जामुन के सिरके का सेवन करें. जामुन का सिरका पीने से मन एकदम सही हो जाएगा और उल्टी की समस्या से राहत मिल जाएगी.

जैतून का सिरका का क्या फायदा है?

Cura ऑलिव सिरका (Zaitoon Sirka ) में जैतून होता है और अनफ़िल्टर्ड, बिना गरम किया जाता है, और इसमें कोई संरक्षक नहीं होता है. ऑलिव सिरका जो पाचन स्वास्थ्य में सहायता करता है आदर्श रूप से भोजन या सलाद ड्रेसिंग के रूप में उपयोग किया जाता है.

गन्ने के सिरके में कौन सा विटामिन होता है?

हिचकी में – अगर आप हिचकी से परेशान हैं तो गन्ने का रस आपकी इस समस्या से निजात दिला सकता है।
कैंसर के उपचार में – गन्ने के रस में कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन और मैग्नीशियम की काफी मात्रा पाई जाती है।

गन्ने का सिरका बालों में लगाने से क्या होता है?

सिरके का इस्तेमाल रूप निखारने से लेकर कई छोटी-बड़ी बीमारियों के इलाज में किया जा सकता है. सिरके का इस्तेमाल कंडिशनर के रूप में किया जा सकता है. एक कप पानी में आधा चम्मच सिरका मिला लीजिए और इससे बालों की मसाज कीजिए. इस उपाय से आपके बाल खिल उठेंगे और उनमें एक नई चमक आ जाएगी.

सेब का सिरका कितने दिन पीना चाहिए?

सेब के सिरके का नियामित सेवन मेटाबॉलिजम को अच्छा कर सकता है और यह मोटापे से भी छुटकारा दिला सकता है। इसके लिए रोज़ाना रात को सोने से पहले दो चम्मच सेब के सिरके को गुनगुने पानी में मिलाकर पिएं। सेब के सिरके में मौजूद मौजूद एसिटिक एसिड से भूख कम होती है, इस तरह ये वज़न कम करने में मददगार है।

खाली पेट सिरका पीने से क्या होता है?

एप्पल साइडर विनेगर यानि सेब का सिरका वजन घटाने (Weight Loss) में भी मदद करता है. रोज सुबह खाली पेट एप्पल साइडर विनेगर पीने से सेहत को कई तरह के दूसरे फायदे भी मिलते हैं. ऐसे में अगर आप पतले होने का प्लान कर रहे हैं तो आपको डाइट में एप्पल साइडर वेनेगर जरूर शामिल करना चाहिए.

सेब का सिरका कौन सी कंपनी का अच्छा होता है?

WOW organic raw Apple साइडर सिरका – मां के स्ट्रैंड के साथ – ध्यान से नहीं – 750mL और WOW… Dabur Himalayan Apple Cider Vinegar with Mother of Vinegar | Raw , Unfiltered ,… Boldfit रॉ ऑर्गेनिक Apple साइडर सिरका मदर सिरका के साथ – USDA प्रमाणित स्ट्रेट Himalaya ACV

सिरका का अन्य नाम क्या है?

सिरका या चुक्र (Vinagar) भोजन का भाग है जो पाश्चात्य, यूरोपीय एवं एशियायी देशों के भोजन में प्राचीन काल से ही प्रयुक्त होता आया है। किसी भी शर्करायुक्त विलयन के मदिराकरण के अनंतर ऐसीटिक (अम्लीयامیر) किण्वन (acetic fermentation) से सिरका या चुक्र (Vinegar, विनिगर) प्राप्त होता है।

जैतून का सिरका कैसे बनाया जाता है?

अगर आपकी स्किन ड्राई रहती है या खुजली होती है तो आप एक छोटी चम्‍मच जैतून का तेल और एक छोटी चम्‍मच सिरका लें। इन दोनों को मिलाकर प्रभावित हिस्‍से पर लगाएं। इसे 10 मिनट तक लगा रहने दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें। जैतून का तेल और सिरका त्‍वचा की नैचुरल एसिडिटी को बनाए रखने में मदद करता है।

जामुन का सिरका कब लेना चाहिए?

रोजाना सुबह में जामुन के सिरके का सेवन करने से डायबिटीज रोग में आराम मिलता है। इसके लिए रोजाना नाश्ते के समय एक चम्मच जामुन के सिरके को आधे गिलास पानी में मिलाकर सेवन करें। इससे ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रहता है। साथ ही पाचन तंत्र मजबूत होता है।

जामुन का सिरका कितनी मात्रा में लेना चाहिए?

जामुन का सिरका सलाद में डालकर इसका सेवन करें। रोजाना करीब 1-2 चम्मच सिरका का सेवन कर सकते हैं।

वाइट विनेगर को हिंदी में क्या बोलते हैं?

व्हाइट विनेगर को डिस्टिल्ड या स्पिरिट विनेगर भी कहा जाता है। इसके चिकित्सकीय उपयोग के अलावा, सफाई, बागवानी और रसोई में भी इस्तेमाल किया जाता है। ऐतिहासिक रूप से इसे शकर, चुकंदर, आलू, शीरा और वे से बनाया जाता थाा लेकिन इन दिनों विनेगर ग्रेन अल्कोहल (इथेनॉल) के फर्मंटेशन से बनाया जाता है।

सिरका क्या है इसका उपयोग बताइए?

बेहतरीन कंडिशनर सिरके का इस्तेमाल कंडिशनर के रूप में किया जा सकता है. …
हिचकी रोकने के लिए अगर आपको लगातार हिचकियां आ रही है तो एक चम्मच सिरका ले लीजिए. …
गले की खराश को दूर करने के लिए …
मांस-पेशियों की तकलीफ में राहत के लिए …
मोटापा कम करने के लिए

गन्ने का सिरका कितने दिन में तैयार होता है?

फलों के रस से बनने वाला सिरका किसान 22 दिन में तैयार कर बाजार में बेचकर अच्छी आमदनी हासिल कर सकते है.

सफेद सिरका घर पर कैसे बनाएं?

आप सबसे पहले किसी बड़े से कंटेनर में गन्ने के रस को ले लीजिए। अब इस रस को बंद करके 2 महीने के लिए किसी गर्म स्थान पर रख दीजिए या फिर आप रोज इसे धूप भी दे सकती हैं। साथ ही आप गन्ने के रस को किसी कंटेनर में रखने के बदले मिट्टी की हांडी में भी रख सकती हैं। अब आप 2 महीने बाद सिरके को चैक कीजिए।

सिरका खाने से क्या नुकसान होता है?

बिना पतला किए यह आपके दांतों को नुकसान पहुंचा सकता है। इसके अधिक सेवन से कैविटी और दांतों की सड़न हो सकती है। इसका सेवन करते समय सिरका का संपर्क दांतों से न होने दें। साथ ही इसे पीने के तुरंत बाद ब्रश न करें।

सिरका पीने से क्या फायदा होता है?

इसमें स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाने वाले कई चमत्कारिक गुण हैं। जिनमें एंटीमाइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट गुण भी शामिल हैं। इतना ही नहीं वजन कम करने, कोलेस्ट्रॉल कम करने , रक्त शकर्रा के स्तर को कम करने और डायबिटीज के लक्षणों में सुधार करने के लिए इसे पीना बहुत फायदेमंद है।

विनेगर के क्या फायदे हैं?

इसके कई तरह के फायदे हैं जैसे वजन कम करना, यीस्ट इनफेक्शन, डैंड्रफ, यूटीआई, अर्थराइटिस जैसी समस्याओं में ये काफी हेल्पफुल है. सेब का सिरका वजन कम करने के साथ-साथ आपकी एसिडिटी, एसिड रिफ्लेक्शन कम करने में भी मदद करता है. घुटनों या जोड़ों के दर्द में भी ये बहुत फायदेमंद है. इससे हमारे शरीर का PH लेवल सही रहता है.

सफेद सिरका कहाँ मिलता है?

सफेद सिरका हर किचन में मौजूद होता है। इसका निर्माण करते वक्त 5 से 10 प्रतिशत एसिटिक एसिड और 90 से 95 प्रतिशत पानी का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह सिरका सबसे अधिक इस्तेमाल होने वाले सिरकों में से एक है।

एप्पल का सिरका कैसे यूज़ करे?

सबसे पहले इसे किसी अन्य तरल पदार्थ के साथ मिलाकर डायल्यूट करें उसके बाद इसका उपयोग करें। -सैलेड बनाते समय इसका उपयोग करने के लिए सबसे पहले इसे ऑलिव ऑइल के साथ डायल्यूट करें और फिर सलाद को इससे गार्निश करें। -वजन घटाने के लिए एक चम्मच सेब का सिरका एक गिलास पानी में मिलाकर रोज सुबह खाली पेट पिएं।